'Assam schools'

- 21 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • Career | Written by: प्रियंका शर्मा |बुधवार सितम्बर 1, 2021 09:07 AM IST
    लेह जिले में प्रशासन ने मंगलवार को कक्षा छह से आठ तक के सभी स्कूलों को छह सितंबर से फिर से खोलने की घोषणा की. इस संबंध में एक नोटिफिकेशन लेह के उपायुक्त (DC) श्रीकांत सुसे द्वारा जारी की गई थी. नोटिफिकेशन के अनुसार, लेह जिले में कक्षा 6 से 8 तक के सभी सरकारी और निजी स्कूल 6 सितंबर से फिर से खुलेंगे.
  • Career | Written by: प्रियंका शर्मा |मंगलवार अगस्त 10, 2021 01:58 PM IST
    कोरोना वायरस का प्रकोप पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है, लेकिन अधिक राज्यों ने हाल ही में फिजिकल कक्षाओं के लिए स्कूलों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों को फिर से खोलने के संबंध में घोषणाएं की हैं.
  • Career | Written by: प्रियंका शर्मा |रविवार मई 16, 2021 04:59 PM IST
    असम सरकार ने राज्य भर के स्कूलों में गर्मियों की छुट्टियों को री- शेड्यूल करने का निर्णय लिया है. अब गर्मी की छुट्टियां 15 मई से 14 जून तक चलेगी. इससे पहले राज्य में गर्मी की छुट्टी 1 जुलाई से 31 जुलाई तक शुरू होने वाली थी.
  • Career | Reported by: भाषा |सोमवार फ़रवरी 22, 2021 10:57 AM IST
    गुवाहाटी स्थित डॉन बॉस्को स्कूल के एक अध्यापक के परिवार के सदस्य और एक अन्य अध्यापक के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद स्कूल को रविवार से सात दिन के लिए सील कर दिया गया. सूत्रों ने बताया कि दोनों शिक्षक प्राधिकारियों को यह सूचित किए बिना कक्षाओं में पढ़ाने जा रहे थे कि वे संक्रमित हैं या संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए हैं.
  • Career | Reported by: भाषा |मंगलवार जनवरी 5, 2021 02:21 PM IST
    असम के शिक्षा मंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने कहा है कि बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने की अपनी तरह की पहल के तहत स्कूल जाने वाली प्रत्येक बालिका को कक्षाओं में शामिल होने के लिए प्रतिदिन 100 रुपये मिलेंगे. सरमा ने रविवार को शिवसागर में कहा कि वर्तमान में राज्य सरकार राज्य बोर्ड से कक्षा 12वीं प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण करने वाली छात्राओं को प्रज्ञान भारती योजना (Pragyan Bharti Scheme) के तहत 22,000 दोपहिया वाहन यानी स्कूटर दिए जाएंगे.
  • India | Reported by: नेहाल किदवई, रत्नदीप चौधरी, स्नेहा मेरी कोशी |शुक्रवार जनवरी 1, 2021 06:40 PM IST
    करीब 8-9 माह बाद स्कूल खुलने से छात्र खुश हैं. स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing Schools) का पालन पूरी तरह होता दिखाई दिया. फेस मास्क और दूसरे प्रोटोकाल का भी छात्र पालन करते दिखाई दिए.
  • Career | Reported by: भाषा |मंगलवार दिसम्बर 15, 2020 11:12 AM IST
    असम के शिक्षा मंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने सोमवार को कहा कि राज्य में सरकार द्वारा संचालित मदरसे और संस्कृत विद्यालय सामान्य शिक्षण संस्थान के रूप में काम करेंगे और इन्हें मौजूदा रूप में बंद करने के लिये विधानसभा के शीतकालीन सत्र में एक विधेयक पेश किया जाएगा. मंत्री ने कहा कि असम में सरकारी मदरसों को बंद करना ऐतिहासिक कदम है और इसका उद्देश्य राज्य की पूरी शिक्षा व्यवस्था को धर्मनिरपेक्ष रूप देना है.
  • Career | Reported by: भाषा |मंगलवार नवम्बर 3, 2020 02:03 PM IST
    असम में प्राथमिक विद्यालयों को छोड़कर सभी शिक्षण संस्थानों को कोविड-19 (Covid-19) नियमों का पालन सुनिश्चित करते हुए सोमवार को फिर से खोला गया. ये संस्थान महामारी के कारण सात महीने से बंद थे. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि कक्षा पांच तक के छात्रों के लिए कक्षाएं बंद रहीं, लेकिन कक्षा छह से छात्रों के लिए फिर से कक्षाओं की शुरूआत हुई. राज्य में कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज, विश्वविद्यालय, पॉलिटेक्निक, निजी शिक्षण संस्थान, सरकारी और निजी प्रशिक्षण और कोचिंग संस्थान सरकारी आदेश के अनुसार फिर से खुल गए.
  • India | Reported by: रत्नदीप चौधरी, Edited by: नवीन कुमार |रविवार नवम्बर 1, 2020 11:22 PM IST
    ऑनलाइन शिक्षा उन छात्रों के लिए जारी रहेगी जो शारीरिक रूप से स्कूल जाने के बजाय ऑनलाइन कक्षाओं में भाग लेना पसंद करते हैं. एसओपी में कहा गया है कि स्कूल और कॉलेजों में सभी छात्रावास की सुविधाएं अगले आदेश तक निलंबित रहेंगी.
  • India | Reported by: रत्नदीप चौधरी, Edited by: राहुल सिंह |शनिवार अक्टूबर 17, 2020 08:05 AM IST
    असम (Assam) में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं और भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अभी से इसकी तैयारी शुरू कर दी है. बीजेपी ने टी ट्राइब कम्युनिटी को रिझाने के लिए चाय बागानों से सटे क्षेत्रों में शिक्षा के विशाल ढांचे को खड़ा करने का चुनावी वादा किया है. जोरहाट में चाय जनजाति समुदाय इकाई की मीटिंग में राज्य के कैबिनेट मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने कहा कि समय आ गया है कि इस जनजाति के लोग असम का निवासी होने पर खुद पर गर्व कर सकें.
और पढ़ें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com