'आम चुनाव 2014' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • Assembly Elections 2020 | मंगलवार फ़रवरी 11, 2020 02:48 PM IST
    आम आदमी पार्टी (AAP) की सीटें जरूर कुछ कम हुई हैं, लेकिन इसके बावजूद AAP आसानी से बहुमत हासिल कर लेगी. केजरीवाल ही दिल्ली के अगले मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. सवाल यह है कि क्या अरविंद केजरीवाल 14 फरवरी को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. दरअसल केजरीवाल का 14 फरवरी की तारीख से एक खास नाता है.
  • India | गुरुवार मई 30, 2019 02:00 PM IST
    राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में आयोजित होने वाले इस शपथ ग्रहण समारोह में करीब आठ हजार मेहमानों के शामिल होने की उम्मीद है. वर्ष 2014 में मोदी को तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने दक्षेस देशों के प्रमुखों सहित 3500 से अधिक मेहमानों की मौजूदगी में शपथ दिलायी थी. राष्ट्रपति भवन के प्रांगण का इस्तेमाल आम तौर पर देश की यात्रा पर आने वाले राष्ट्राध्यक्षों एवं सरकार के प्रमुखों के औपचारिक स्वागत के लिए किया जाता है. इससे पहले 1990 में चंद्रशेखर और 1999 में अटल बिहारी वाजपेयी को राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में शपथ दिलायी गई थी. शपथ ग्रहण समारोह में बिम्सटेक देशों, बांग्लादेश के राष्ट्रपति अब्दुल हामिद, श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपाला सिरिसेना, नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली, म्यामांर के राष्ट्रपति यू विन मिंट और भूटान के प्रधानमंत्री लोताय शेरिंग ने शामिल होने की पुष्टि पहले ही कर दी है. थाईलैंड से उसके विशेष दूत जी बूनराच देश का प्रतिनिधित्व करेंगे. भारत के अलावा बिम्सटेक में बांग्लादेश, म्यामां, श्रीलंका, थाईलैंड, नेपाल और भूटान शामिल हैं. इन नेताओं के साथ-साथ शंघाई सहयोग संगठन के वर्तमान अध्यक्ष और किर्गिस्तान के वर्तमान राष्ट्रपति जीनबेकोव और मॉरिशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ को भी शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया गया है. मोदी नीत भाजपा ने लोकसभा चुनाव में 542 सीटों में से 303 सीटें जीतकर सत्ता में बहुमत के साथ वापसी की है.
  • Blogs | सोमवार जून 10, 2019 12:54 PM IST
    यह सच है कि 2014 और 2019 के आम चुनाव में राहुल गांधी और कांग्रेस बुरी तरह पराजित हुए हैं. नरेंद्र मोदी और BJP की ऐतिहासिक जीत के आईने में यह हार कुछ और बड़ी और दुखी करने वाली लगती है. लेकिन अतीत में देखें तो ऐसे इकतरफ़ा परिणाम और अनुमान कांग्रेस और BJP दोनों के हक़ में आते रहे हैं और दोनों को हंसाते-रुलाते रहे हैं. 1984 में जब राजीव गांधी को 400 से ज्यादा सीटें मिली थीं और अटल-आडवाणी को महज 2, तब भी कुछ लोगों को लगा था कि अब तो BJP का सफ़ाया हो गया. लेकिन 1989 आते-आते BJP वीपी सिंह की सत्ता का एक पाया बनी हुई थी.
  • India | गुरुवार मई 23, 2019 07:06 PM IST
    पंडित जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के लोकतांत्रिक इतिहास में एक नया अध्याय जोड़ दिया है. नेहरू और इंदिरा के बाद मोदी पूर्ण बहुमत के साथ लगातार दूसरी बार सत्ता के शिखर पर पहुंचने वाले तीसरे प्रधानमंत्री बन गए हैं.  आज गुरूवार को देशभर में लोकसभा चुनाव के लिए मतगणना अभी जारी है और अभी तक मिले रूझान बता रहे हैं कि मोदी की कमान में भगवा पार्टी 17वीं लोकसभा में पूर्ण बहुमत के लिए जरूरी 272 के आंकड़े तक आसानी से पहुंच जाएगी. 2014 में हुए आम चुनाव में भाजपा ने लोकसभा की कुल 543 सीटों में से 282 सीटों पर जीत हासिल की थी.
  • Lok Sabha Elections 2019 | गुरुवार मई 23, 2019 11:18 PM IST
    Jharkhand Election Results 2019: झारखंड की 14 लोकसभा सीटों में से 12 सीटों पर भाजपा और उसकी सहयोगी ऑल झारखंड स्टूडेंट यूनियन (आजसू) के उम्मीदवारों ने जीत दर्ज की है. भाजपा की अगुवाई वाली एनडीए को 2014 के आम चुनावों में भी झारखंड में इतनी ही सीटें मिली थीं.
  • Lok Sabha Elections 2019 | गुरुवार मई 23, 2019 09:10 PM IST
    पंजाब में कांग्रेस 8 सीटें मिली हैं. अकाली-बीजेपी गंठबंधन को 4 और आप को सिर्फ 1 सीट मिली हैं. पंजाब में अंतिम दिन 19 मई को एक ही चरण में मतदान हुआ था. पंजाब में 13 लोकसभा सीटें और राज्य में 117 विधानसभा क्षेत्र हैं. साल 2011 की जनगणना के अनुसार, पंजाब की आबादी 27,743,338 करोड़ है जिसमें 14,639,465 पुरुष और 27,743,338 महिलाएं शामिल हैं. सन 2014 के लोकसभा चुनावों (Lok Sabha Elections 2019) में, बीजेपी- शिरोमणि अकाली दल राज्य में 6 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी. अकाली दल ने चार सीटें जीती थीं और बीजेपी ने दो संसदीय सीटें जीती थीं. आम आदमी पार्टी (AAP) ने राज्य में चार सीटों पर जीत हासिल करते हुए तीसरे विकल्प के रूप में शानदार शुरुआत की. कांग्रेस को सिर्फ तीन सीटों पर जीत मिल सकी थी.
  • India | सोमवार मई 20, 2019 10:58 AM IST
    लोकसभा चुनाव के रविवार शाम आए ज्यादातर एग्जिट पोल के मुताबिक नरेन्द्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री के रूप में वापसी करने जा रहे हैं. यहां तक कि कुछ एग्जिट पोल ने बीजेपी की अगुवाई एनडीए को बहुमत के लिए जरूरी 272 सीटों से कहीं अधिक 300 प्लस सीट मिलने का अनुमान व्यक्त किया है. हालांकि कई एक्जिट पोल के मुताबिक भाजपा-गठबंधन को उत्तर प्रदेश में खासा नुकसान हो रहा है. 2014 के आम चुनाव में पार्टी को 71 सीटें मिली थीं. एबीपी नीलसन की मानें तो भाजपा-गठबंधन को उत्तर प्रदेश में सिर्फ 22 सीटें मिलने की संभावना है, जबकि न्यूज 18-इपसस और न्यूज24 चाणक्य के अनुसार राजग को 60 से ज्यादा सीटें मिलेंगी. भगवा पार्टी को पश्चिम बंगाल और ओडिशा में इस बार ज्यादा फायदा होता दिख रहा है. न्यूज18 इपसस, इंडिया टुडे-एक्सिस और न्यूज24 चाणक्य के एक्जिट पोल के मुताबिक एनडीए को क्रमश: 336, 339-368 और 336-364 सीटें मिलने जा रही हैं. वहीं, एबीपी न्यूज नीलसन और नेता-न्यूज एक्स के अनुसार सत्तारूढ़ राजग गठबंधन को बहुमत के लिए जरूरी 272 सीटों से कुछ कम सीट मिलेंगी. बहुमत के लिए किसी भी पार्टी या गठबंधन को कम से कम 272 सीटें चाहिए. टाइम्स नाउ चैनल पर प्रसारित दो एक्जिट पोल के मुताबिक एनडीए को 296 से 306 सीटें मिलने की संभावना है जबकि यूपीए को 126 से 132 सीटें मिल सकती हैं. सी-वोटर-रिपब्लिक के एक्जिट पोल के मुताबिक, एनडीए और यूपीए को क्रमश: 287 और 128 सीटें मिलने की संभावना है. हालांकि नेक्सा-न्यूज एक्स के अनुसार, एनडीए को बहुमत से कम 242 सीटें मिलने की संभावना है. इसने यूपीए को 164 सीटें दी हैं.
  • Lok Sabha Elections 2019 | बुधवार मई 15, 2019 03:21 PM IST
    लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के लिए 19 मई को मतदान होना है और इस पूरे चुनाव के नतीजे 23 मई को आएंगे. इस बार के चुनाव और 2014 के चुनावों की अगर तुलना की जाए तो कई नई बातें सामने आएंगी. इस बार नेताओं ने एक-दूसरे के खिलाफ दिए गए बयान खूब चर्चा में रहे. इस बयानबाजी ने कई नेताओं को सुर्खियां दिलाईं और जनता के बीच उनकी छवि को एक नया आधार दिया.
  • Lok Sabha Elections 2019 | शुक्रवार मई 10, 2019 03:29 PM IST
    जपुरी फिल्मों के सुपरस्टार रवि किशन राजनीति में अपनी नई पारी का आगाज कर चुके हैं, 2019 के आम चुनावों में वह बीजेपी के टिकट पर गोरखपुर से चुनाव लड़ रहे हैं.हालांकि 2014 के लोकसभा चुनावों में भी वह अपनी किस्मत आजमा चुके हैं
  • Lok Sabha Elections 2019 | गुरुवार मई 9, 2019 04:33 PM IST
    साल 2004 में सांसद चुने जाने के बाद 2009 और 2014 के आम चुनाव में भी हैदराबाद क्षेत्र से सांसद चुने गए. 2019 के आम चुनाव में वह अपनी पार्टी ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन से फिर एक बार हैदराबाद क्षेत्र से उम्मीदवार हैं. इसके अलावा, ओवैसी हैदराबाद स्थित ओवैसी हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर के अध्यक्ष हैं.
और पढ़ें »
'आम चुनाव 2014' - more than 1000 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com