भारतीय हॉकी टीम के सामने विश्व कप से पहले ऑस्ट्रेलिया की चुनौती

ऑस्ट्रेलिया आने से पहले भारतीय टीम ने भुवनेश्वर में एफआईएच प्रो लीग में न्यूजीलैंड के खिलाफ दो जीत और स्पेन  के खिलाफ एक जीत और एक हार का सामना किया है.

भारतीय हॉकी टीम के सामने विश्व कप से पहले ऑस्ट्रेलिया की चुनौती

यह श्रृंखला हमारे लिए काफी अहम है

भारतीय पुरुष हॉकी (Indian Men's Hockey Team) टीम शनिवार को जब दुनिया की नंबर एक टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच मैचों की श्रृंखला के शुरुआती मुकाबले में मैदान में उतरेगी तो विश्व कप से पहले अपनी ताकत और कमजोरी का आकलन करने का उसके पास शानदार मौका होगा. हॉकी की दुनिया में लंबे समय से अपना दबदबा कायम करने वाली ऑस्ट्रेलिया (Australia Hockey Team) को चुनौती देना भारत के लिए हमेशा से मुश्किल रहा है. बर्मिंघम में राष्ट्रमंडल खेलों के फाइनल में भारत को ऑस्ट्रेलिया से 0-7 से शिकस्त का सामना करना पड़ा था, जिसके बाद पहली बार दोनों टीमें एक-दूसरे के खिलाफ मैदान में उतरेंगी. विश्व रैंकिंग में पांचवें स्थान पर काबिज भारतीय टीम इस मैच में जीत की प्रबल दावेदार नहीं होगी लेकिन तोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीतने के बाद टीम ने कुछ मैचों को छोड़कर लगातार अच्छा प्रदर्शन किया है. ऑस्ट्रेलिया आने से पहले भारतीय टीम ने भुवनेश्वर में एफआईएच प्रो लीग में न्यूजीलैंड के खिलाफ दो जीत और स्पेन  के खिलाफ एक जीत और एक हार का सामना किया है. स्पेन और न्यूजीलैंड दोनों रैंकिंग में भारत से नीचे क्रमशः आठवें और नौवें स्थान पर है. ऐसे में ऑस्ट्रेलिया का उसके घरेलू मैदान में सामना करना भारतीय टीम के लिए पूरी तरह से अलग चुनौती होगी.

भारतीय कोच रीड ने इस श्रृंखला के बारे में कहा, ‘‘ विश्व कप की तैयारी के लिए ऑस्ट्रेलिया से बेहतर कोई और जगह नहीं हो सकती है'' उन्होंने कहा, ‘‘ ऑस्ट्रेलिया के खेलने का तरीके को भारत में पसंद किया जाता है। इस श्रृंखला की सबसे अच्छी बात यह है कि दोनों टीमों को एक-दूसरे के अलग-अलग कौशल के बारे में सीखने को मिलेगा'' विश्व कप शुरु होने में 50 से भी कम दिन बचे है और भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘यह श्रृंखला हमारे लिए काफी अहम है. जब आप विश्व कप जैसे बड़े आयोजन की तैयारी कर रहे होते हैं, तो सर्वश्रेष्ठ टीम के खिलाफ खेलना हमेशा अच्छा होता है''

हाल ही में एफआईएच साल का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का खिताब जीतने वाले इस ड्रैग फ्लिकर को उम्मीद है ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले प्रवासी भारतीय टीम की हौसला अफजाई के लिए मैदान में मौजूद रहेंगे. उन्होंने कहा, ‘‘कई वर्षों के अंतराल के बाद ऑस्ट्रेलिया आना शानदार है। कोविड-19 के कारण हम लंबे समय तक यात्रा नहीं कर सके थे. यहां बड़ी संख्या में भारतीय हॉकी के जूनूनी प्रशंसक मौजूद है। मुझे अच्छे मैच की उम्मीद है.'' ऑस्ट्रेलिया के मुख्य को कोलिन बैच ने कहा, ‘‘ जनवरी में होने वाले विश्व कप से पहले यह श्रृंखला हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है. यह बहुत अच्छा है कि भारत यहां है. हमें उनके खिलाफ खेलना पसंद है और यह हमारे लिए शानदार मुकाबला होगा''.


श्रृंखला के अगले चार मैच 27 और 30 नवंबर तथा एक और तीन दिसंबर को खेले जायेंगे.

टीमें :

भारतीय टीम :  हरमनप्रीत सिंह (कप्तान), अमित रोहिदास (उपकप्तान), कृष्ण बहादुर पाठक, पी आर श्रीजेश, वरूण कुमार, जरमनप्रीत सिंह, सुरेंदर कुमार, जुगराज सिंह, मनदीप मोर, नीलम संजीप सेस , गुरजंत सिंह, आकाशदीप सिंह, मोहम्मद रहील मौसीन, राजकुमार पाल, नीलाकांता शर्मा, शमशेर सिंह, हार्दिक सिंह, मनप्रीत सिंह, सुमित, मनदीप सिंह, दिलप्रीत सिंह, अभिषेक और सुखजीत सिंह

  ऑस्ट्रेलिया टीम: जैकब एंडरसन, डैनियल बील, जोश बेल्ट्ज, एंड्रयू चार्टर, जेम्स कॉलिन्स, टॉम क्रेग, मैथ्यू डॉसन, जोहान डर्स्ट, नाथन एफ्राम्स, ब्लेक गोवर्स, जेक हार्वी, जेरेमी हेवर्ड, टिम हॉवर्ड, डायलन मार्टिन, एडी ओकेनडेन, फ्लिन ओगिल्वी, बेन रेनी , लाचलान शार्प, जैक वेल्च, जेक वेट्टन, टॉम विकम, क्यू विलॉट, अरन जाल्वेस्की

ये भी पढ़े

न्यूजीलैंड के खिलाफ चल रही वनडे सीरीज के बीच आश्विन ने संजू को लेकर कह दी ये बात, मैं चाहता हूं...

मरान मलिक और फैंस का इंतज़ार खत्म, भारत की तरफ से दो तेज़ गेंदबाज़ों का एक साथ हुआ डेब्यू

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

       

स्पोर्ट्स से जुड़ी खबरों के लिए सब्सक्राइब करें NDTV Sports Hindi



अन्य खबरें