मुंबई सहित महाराष्ट्र के 25 जिलों में कोरोना पाबंदियों में मिल सकती है ढील, सीएम उद्धव लेंगे अंतिम फैसला

Maharashtra Lockdown: महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने गुरुवार को कहा कि मुंबई सहित 25 जिलों में कोरोना से जुड़ी पाबंदियों (Maharashtra Covid Curbs) में ढील दी जा सकती हैं, जहां कोविड-19 (Covid-19) संक्रमण दर राज्य की औसत दर से कम है.

मुंबई सहित महाराष्ट्र के 25 जिलों में कोरोना पाबंदियों में मिल सकती है ढील, सीएम उद्धव लेंगे अंतिम फैसला

मुंबई:

Maharashtra Lockdown: महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने गुरुवार को कहा कि मुंबई सहित 25 जिलों में कोरोना से जुड़ी पाबंदियों (Maharashtra Covid Curbs) में ढील दी जा सकती हैं, जहां कोविड-19 (Covid-19) संक्रमण दर राज्य की औसत दर से कम है. उन्होंने कहा कि सरकार इस बात पर भी विचार कर रही है कि जिन लोगों को कोरोना वायरस (Coronavirus) का पूरी तरह से टीका (Corona Vaccine) लगवा लिया है, उन्हें मुंबई में लोकल ट्रेनों (Mumbai Local) में यात्रा करने की अनुमति दी जा सकती है या नहीं. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अध्यक्षता में हुई राज्य के कोविड ​​​​-19 कार्य बल की बैठक के बाद पत्रकारों से बात करते हुए, टोपे ने कहा कि शेष 11 जिलों में अधिक प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं, जहां संक्रमण दर अधिक है. उन्होंने कहा, “हमने मुंबई सहित 25 जिलों में अधिक छूट देने पर चर्चा की है, जहां संक्रमण दर राज्य के औसत से बहुत कम है.

विस्तृत दिशा-निर्देशों के साथ दो दिनों में निर्णय लिया जाएगा.'' मंत्री ने कहा, लेकिन पुणे, सोलापुर, सांगली, सतारा, कोल्हापुर, पालघर, रायगढ़, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, बीड और अहमदनगर जिलों में कोई ढील नहीं दी जाएगी, जहां संक्रमण संक्रमण दर औसत से अधिक है.''


उन्होंने कहा, ''यदि आवश्यक हो, तो स्थानीय अधिकारी कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए (इन क्षेत्रों में) अधिक कड़े प्रतिबंध लगा सकते हैं.'' टोपे ने कहा कि कोरोना वायरस टीके की दोनों खुराकें ले चुके लोगों को मुंबई में लोकल ट्रेनों में सफर की अनुमति देने के मुद्दे पर भी विस्तार से चर्चा की गई.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा, “हम अभी यह सत्यापित करने के तरीकों पर चर्चा कर रहे हैं कि क्या किसी यात्री ने दोनों खुराक ली हैं. हम रेलवे अधिकारियों से भी बात करेंगे.'' फिलहाल केवल आवश्यक और आपातकालीन सेवाओं में लगे लोगों को ही राज्य की राजधानी में लोकल ट्रेनों से यात्रा करने की अनुमति है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)