कोलकाता के हाईवोल्टेज ड्रामे में सीआरपीएफ की एंट्री, CBI ने राज्यपाल से मिलने का समय मांगा

कोलकाता में सीबीआई कार्यालय के बाहर CRPF की टुकड़ी पहुंच गई है और मोर्चा संभाल लिया है. .

नई दिल्ली :

चिटफंड घोटाले में कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार  (Rajeev Kumar) के घर जांच के लिए पहुंची सीबीआई टीम के अफसरों की गिरफ्तारी के बाद कोलकाता में हाईवोल्टेज ड्रामा जारी है. हालांकि CBI के पांचों अफसरों को छोड़ दिया गया है, लेकिन राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी धरने पर बैठ गई हैं. वहीं दूसरी तरफ, अब कोलकाता में सीबीआई कार्यालय के बाहर CRPF की टुकड़ी पहुंच गई है और मोर्चा संभाल लिया है. बताया जा रहा है कि कार्यालय की सुरक्षा के लिए सीआरपीएफ को बुलाया गया है. इस बीच खबर है कि सीबीआई ने इस पूरे मामले में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल से हस्तक्षेप की मांग की है और उनसे मिलने का समय मांगा है. सीबीआई के अंतरिम निदेशक एम नागेश्वर राव ने कहा कि हम अपने वरिष्ठ कानूनविदों के संपर्क में हैं और उनसे बातचीत जारी है. वे जैसा कहेंगे, उसके अनुसार आगे कदम उठाया जाएगा.

सीबीआई के अंतरिम निदेशक एम नागेश्वर राव ने कहा कि राजीव कुमार के खिलाफ हमारे पास सबूत हैं और हम सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के अनुसार चिटफंड घोटाले की जांच कर रहे हैं. इस मामले में तमाम सबूतों को नष्ट करने का प्रयास किया जा रहा है. हमें सारे दस्तावेज नहीं सौंपे जा रहे हैं. दूसरी तरफ इस मामले में सियासत भी शुरू हो गई है. आरजेडी चीफ लालू यादव, कांग्रेस नेता अहमद पटेल, अरविंद केजरीवाल समेत अन्य नेताओं ने ममता बनर्जी के साथ एकजुटता दिखाई है. तो वहीं, भाजपा इस मामले पर राज्य सरकार के खिलाफ हमलावर है. आपको बता दें कि इससे पहले कमिश्वर राजीव कुमार के घर पहुंचे सीबीआई अधिकारियों को हिरासत में ले लिया गया था. पुलिस ने CBI अधिकारियों को वारंट दिखाने को कहा और उन्हें कमिश्वर आवास के अंदर जाने से रोक दिया.

इस हाईवोल्टेज ड्रामे के बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कमिश्नर राजीव कुमार के घर पहुंचीं. उन्होंने कहा कि सीबीआई की सियासी इस्तेमाल हो रहा है. ये प्रतिशोध की राजनीति है. उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के इशारे पर एनएसए अजीत डोभाल इसे अंजाम दे रहे हैं. अगर पुलिस कमिश्नर के खिलाफ सबूत है तो उसे पेश किया जाए. ममता ने कहा कि चिटफंड घोटाला बहुत छोटा है. अपने अधिकारियों की रक्षा करना मेरा कर्तव्य है. ऐसी हरकतों से हम डरेंगे नहीं. वहीं, इस मामले में वही तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने ट्वीट कर सवाल उठाया है कि क्या बीजेपी 40 CBI अधिकारियों को भेजकर तख्तापलट की तैयारी कर रही है?  

VIDEO: प्रतिशोध के लिए सीबीआई का इस्‍तेमाल हो रहा है : ममता बनर्जी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com