विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 10, 2022

"यदि आप लालची हैं..." : तृणमूल कांग्रेस के नेताओं से बोलीं ममता बनर्जी  

बनर्जी ने कहा, "मैं पिछले सात से आठ वर्षों से यह कह रही हूं, जितनी जरूरत हो उतनी ही लो. कभी-कभी जब मैं बिस्तर पर होती हूं, तो मुझे लगता है मेरे पास खुद का एक बिस्तर है. मैं सो रही हूं. अगर मैं कल मर गई, तो इस कमरे की देखभाल कौन करेगा?"

Read Time: 4 mins
ममता बनर्जी ने अपनी पार्टी के नेताओं को ईमानदारी से रहने की सीख दी.

नादिया जिले के कृष्णानगर में एक रैली में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे अपनी ही पार्टी के नेताओं को ईमानदारी से रहने की सीख दी. पंचायत चुनावों से पहले तृणमूल कांग्रेस अपनी छवि को ठीक करने की कोशिश कर रही है. ममता बनर्जी ने कहा, "भाजपा तृणमूल कांग्रेस को लगातार गाली दे रही है. उनके पास और कोई काम नहीं है. मैं आपको स्पष्ट रूप से बताना चाहती हूं कि तृणमूल कांग्रेस जमीन से जुड़ी पार्टी है. एक या दो लोग गलती कर सकते हैं. इसका मतलब यह नहीं है कि हर कोई गलत कर रहा है." 

मुख्यमंत्री ने कहा, "मैं यहां अपनी मां और बहनों से पूछना चाहती हूं, क्या आपके पांच बच्चे एक जैसे हैं? उनमें से एक थोड़ा भटक सकता है. उसे सुधारना होगा. मैं चाहती हूं कि जिन्होंने गलतियां की हैं, वे खुद को सुधारें. गलतियों को ठीक करना और सुधारना हमारा धर्म है. नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने गलतियां करने के अधिकार के बारे में बात की थी. यह भी एक अधिकार है और उन गलतियों को ठीक करना होगा." 

बनर्जी ने कहा, "मैं पिछले सात से आठ वर्षों से यह कह रही हूं, जितनी जरूरत हो उतनी ही लो. कभी-कभी जब मैं बिस्तर पर होती हूं, तो मुझे लगता है मेरे पास खुद का एक बिस्तर है. मेरे पास एक कमरा है. मैं सो रही हूं. अगर मैं कल मर गई, तो इस कमरे की देखभाल कौन करेगा? कोई नहीं है इसे देखने के लिए. यही स्थिति है. तो, क्या होगा? यह पैसा जो मूल्य लाता है, वह व्यर्थ है."

रैली में मुख्यमंत्री ने पार्टी समर्थकों से कहा, "यदि आप लालची हैं और आप पैसा कमाते हैं, तो आप इसे जिस व्यक्ति के पास रखेंगे, वह चोरी करेगा. यदि आप लालची हैं और आप पैसा कमाते हैं, तो इससे समाज में आपकी बदनामी होती है." बीजेपी पर सबसे भ्रष्ट होने का आरोप लगाते हुए, ममता बनर्जी ने कहा, "बीजेपी सबसे ज्यादा यही करती है. हर चुनाव में, वे हजारों करोड़ खर्च करते हैं. वह पैसा कहां से आता है? हिमाचल प्रदेश और गुजरात में चुनाव है तो आपने फिर से बॉंड खोल दिए. सभी दल बॉंड लेते हैं, क्योंकि कानून के अनुसार इसकी अनुमति है, लेकिन बात यह है कि जब चुनाव आता है, तो आप हजारों करोड़ जुटाते हैं और एजेंसियों का उपयोग दूसरों को डराने के लिए करते हैं. मध्य प्रदेश में व्यापम घोटाले में कितने लोगों को गिरफ्तार किया गया, मैं जानना चाहती हूं. मैं जानना चाहती हूं कि क्या शिक्षा मंत्री को गिरफ्तार किया गया है?"

यह भी पढ़ें-

असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी को कर्नाटक के ईदगाह गार्डन में टीपू जयंती मनाने की मिली इजाजत
फेसबुक की पेरेन्ट कंपनी मेटा ने 11,000 से ज़्यादा कर्मचारियों को निकाला, मार्क जकरबर्ग ने कहा-सॉरी
लोन एप के जरिए जबरन वसूली करने वाले गैंग का भंडाफोड़, चीनी महिला समेत 2 गिरफ्तार

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Explainer: हरियाणा और महाराष्ट्र की राज्यसभा सीटों के चुनाव में क्यों बन सकती है सियासी जोड़तोड़ की स्थिति?
"यदि आप लालची हैं..." : तृणमूल कांग्रेस के नेताओं से बोलीं ममता बनर्जी  
शहबाज शरीफ और नवाज शरीफ ने दी जीत की बधाई, कुछ ऐसा था PM मोदी का रिएक्‍शन
Next Article
शहबाज शरीफ और नवाज शरीफ ने दी जीत की बधाई, कुछ ऐसा था PM मोदी का रिएक्‍शन
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;