विज्ञापन
Story ProgressBack

दिल्ली-NCR में बदला मौसम का मिजाज, बारिश ने दी गर्मी से राहत, इन राज्यों में हीटवेव का अलर्ट

Weather Update : मौसम विभाग के अनुसार, अप्रैल में देश के विभिन्न हिस्सों में सामान्यतः एक से तीन दिन की अवधि की तुलना में चार से आठ दिन हीट वेव रहने की संभावना है.

दिल्ली-NCR में बदला मौसम का मिजाज, बारिश ने दी गर्मी से राहत, इन राज्यों में हीटवेव का अलर्ट
Weather Update : बारिश के कारण कई कार चालकों ने दिन में ही हेडलाइट ऑन कर दी.

दिल्ली-NCR के लोगों को गर्मी से राहत मिल गई है. शाम के समय अचानक झमाझम बारिश ने लोगों को आनंदित कर दिया. पिछले कई दिनों से दिल्ली-NCR में भी तापमान काफी बढ़ा हुआ था. यहां तक की रात के समय भी लोगों को राहत नहीं मिल रही थी. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने सोमवार को कहा कि पूर्वी भारत के बड़े हिस्से में उष्ण लहर (हीट वेव) अगले पांच दिन तक जारी रहेगी. पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड और बिहार के कुछ हिस्सों में उष्ण लहर (Heat Wave) की स्थिति है और यह इस महीने में दूसरी बार है.

मौसम विभाग के अनुसार, 15 अप्रैल से ओडिशा में और 17 अप्रैल से पश्चिम बंगाल में गंगा के किनारे वाले क्षेत्रों में उष्ण लहर की स्थिति बनी हुई है. तटीय आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, पुडुचेरी, कर्नाटक, गोवा, केरल, पश्चिम बंगाल और बिहार में उच्च आर्द्रता लोगों की परेशानी बढ़ा सकती है.

पूर्वी मध्य प्रदेश में 22 अप्रैल और 23 अप्रैल को रात का तापमान काफी अधिक होने की संभावना है. रात में अधिक तापमान खतरनाक माना जाता है, क्योंकि शरीर को ठंडा होने का मौका नहीं मिलता है. मौसम विभाग के अनुसार, अप्रैल में देश के विभिन्न हिस्सों में सामान्यतः एक से तीन दिन की अवधि की तुलना में चार से आठ दिन उष्ण लहर रहने की संभावना है. पूरे अप्रैल-जून की अवधि में सामान्यतः चार से आठ दिन की तुलना में 10 से 20 दिन तक उष्ण लहर की संभावना है.

गर्मी से चुनाव आयोग भी चिंतित
देश के कुछ हिस्सों में सामान्य से अधिक तापमान (Temperature) और लू चलने का असर लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2024) में देखा जा रहा है. 19 अप्रैल को पहले फेज की वोटिंग हुई, मगर भीषण गर्मी की वजह से कम वोटर्स बूथ तक पहुंचे. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने अगले कुछ दिनों के लिए भी गर्मी और लू (Heatwave) चलने का पूर्वानुमान जताया है. कम वोटिंग पर चुनाव आयोग (Election Commission) ने चिंता जाहिर की है. हीटवेव रिस्क को कम करने के लिए चुनाव आयोग ने सोमवार को मौसम विभाग के अधिकारियों समेत कई स्टैक होल्डर्स के साथ हाई लेवल मीटिंग की. इस बैठक में मौसम विभाग, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण और स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अधिकारियों ने हिस्सा लिया. मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार ने चुनाव आयुक्त ज्ञानेश कुमार और सुखबीर सिंह संधू के साथ बैठक की अध्यक्षता की. अधिकतर राज्यों के सीईओ ने हीटवेव को लेकर इंतजामों को बेहतर करने का आश्वासन दिया है. 

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
सन 2041 तक असम बन जाएगा सबसे बड़ा मुस्लिम बहुल राज्य! हिमंता बिस्वा सरमा ने किया दावा
दिल्ली-NCR में बदला मौसम का मिजाज, बारिश ने दी गर्मी से राहत, इन राज्यों में हीटवेव का अलर्ट
शरद पवार क्या अजित पवार को फिर लेंगे अपनी पार्टी में? चाचा का यह बयान क्या कहता है...
Next Article
शरद पवार क्या अजित पवार को फिर लेंगे अपनी पार्टी में? चाचा का यह बयान क्या कहता है...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;