VIDEO: बेसहारा बुजुर्गों को कथित तौर पर शहर से बाहर छोड़ रहा इंदौर नगरनिगम का वाहन, कांग्रेस हुई हमलावर..

इसी महीने स्वच्छता सर्वेक्षण होना है ‍और इसके चलते लगातार पांचवीं बार सबसे स्वच्छ शहर का तमगा हासिल करने के लिए इंदौर नगरनिगम कोई कसर नहीं छोड़ रहा है.

VIDEO: बेसहारा बुजुर्गों को कथित तौर पर शहर से बाहर छोड़ रहा इंदौर नगरनिगम का वाहन, कांग्रेस हुई हमलावर..

वीडियो वायरल होने के बाद कांग्रेस ने शिवराज सिंह चौहान सरकार पर निशाना साधा है

देश के सबसे साफ शहर इंदौर (Indore) के करीब एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें कथित तौर पर शुक्रवार को नगरनिगम कर्मी, कमज़ोर-बेसहारा बुजुर्गों को एक गाड़ी में भरकर इंदौर-देवास हाईवे पर छोड़ते नजर आ रहे हैं.  वीडियो में निगम के कुछ कर्मचारी, एक बुजुर्ग कमजोर महिला और एक पुरुष बुजुर्ग को गाड़ी से उतारते और बैठाते हुए दिख रहे हैं. गाड़ी में कुछ और बुजुर्ग व उनका सामान नजर आ रहा है. वीडियो शिप्रा के आसपास का बताया जा रहा है. फिलहाल प्रशासन ने इस मामले में कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है लेकिन कांग्रेस पार्टी ने इसे लेकर ट्वीट करके मध्‍य प्रदेश की शिवराज सिंह सरकार पर निशाना साधा है.

सिंधिया परिवार ने दो दफा मध्यप्रदेश में कांग्रेस को सत्ता से हटाया: शिवराज सिंह चौहान

वीडियो के सामने आने के बाद  मामले मेें संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री ने  नगर निगम उपायुक्त प्रताप सोलंकी को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए हैं, उन्‍हें भोपाल में नगरीय विकास संचालनालय अटैच किया गया है. इंदौर में आज हुई इस घटना के समय मौजूद नगर निगम के दो कर्मचारियों को बर्खास्त करने के निर्देश दिए गए हैं. सीएम शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश देते हुए कहा कि बुजुर्गों के प्रति अमानवीय व्यवहार किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है. मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कलेक्टर इंदौर को निर्देश दिए हैंकि बुजुर्गों की समुचित देखभाल की जाए.

स्‍वच्‍छता सर्वे में पटना के 'प्रदर्शन' पर तेजस्‍वी ने CM नीतीश पर कसा तंज, कहा-15 वर्षों में कहीं तो नंबर-1..

मध्‍यप्रदेश: कमलनाथ ने ट्वीट किया VIDEO, बीजेपी नेता पर लगाया महिला को पीटने का आरोप

कांग्रेस प्रवक्ता नरेन्द्र सलूजा ने इस वीडियो को ट्वीट करते हुए लिखा है @ChouhanShivraj  मुख्यमंत्री जी, आपकी सरकार में इंदौर नगर निगम के अधिकारियों की निर्लज्जता सामने आई है. बुजुर्गों को निगम की गाड़ी में बैठाकर शिप्रा पर छोड़ा जा रहा था. क्या यही सुशासन है ? ऐसे अधिकारी दंडित होना चाहिए. जिस गाड़ी से बुजुर्गों को हाईवे पर बेसहारा कर छोड़ने लाया गया था, उसका नंबर एमपीएफ 7622 था और यह निगम के अतिक्रमण निरोधक दस्ते की गाड़ी है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


 गौरतलब है कि इसी महीने स्वच्छता सर्वेक्षण होना है ‍और इसके चलते लगातार पांचवीं बार सबसे स्वच्छ शहर का तमगा हासिल करने के लिए इंदौर नगरनिगम कोई कसर नहीं छोड़ रहा है.