आंधी से पुरी-हावड़ा वंदे भारत एक्सप्रेस पर पेड़ की डालियां गिरीं, मोटरमैन केबिन का शीशा टूटा

पुरी-हावड़ा वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन के व्यावसायिक परिचालन का रविवार को दूसरा दिन था, ओडिशा के जाजपुर जिले में हुआ हादसा

आंधी से पुरी-हावड़ा वंदे भारत एक्सप्रेस पर पेड़ की डालियां गिरीं, मोटरमैन केबिन का शीशा टूटा

पुरी-हावड़ा वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन का शीशा आंधी के कारण पेड़ की शाखाएं गिरने से टूट गया.

कोलकाता:

पुरी से हावड़ा जा रही वंदे भारत एक्सप्रेस के मोटरमैन केबिन का शीशा रविवार को टूट गया. कुछ अन्य शीशे भी क्षतिग्रस्त हो गए. ओडिशा के जाजपुर जिले में तेज आंधी के कारण ट्रेन पर पेड़ की शाखाएं गिरने से यह घटना हुई. इस घटना में ट्रेन के पैंटोग्राफ भी क्षतिग्रस्त हो गए हैं. इससे ट्रेन के प्रोपल्शन सिस्टम की बिजली आपूर्ति प्रभावित हुई. यात्रियों को ट्रेन में से वापस लाने की व्यवस्था की जा रही है.

पुरी-हावड़ा वंदे भारत ट्रेन का व्यावसायिक परिचालन शनिवार को शुरू हुआ था. ट्रेन का उद्घाटन गुरुवार को पुरी में किया गया था. इसके परिचालन का आज दूसरा दिन था. इस घटना के कारण हावड़ा और पुरी के बीच दोनों दिशाओं में वंदे भारत ट्रेन की सेवाएं सोमवार को रद्द कर दी गई हैं. कल रेक का रखरखाव किया जाएगा.

हादसा भद्रक के पास तेज आंधी के दौरान हुआ. ट्रेन के रुकने से पहले यात्रियों ने तेज आवाज सुनी. अधिकारियों ने बताया कि पेड़ की शाखाएं ट्रेन के ‘पेंटोग्राफ' में फंस गईं, जिससे ट्रेन का संचालन बाधित हुआ. यह घटना शाम लगभग पौने पांच बजे बैतरनी रोड और मंजुरी रोड स्टेशनों के बीच हुई. ट्रेन पुरी से हावड़ा की ओर जा रही थी.

दक्षिण पूर्व रेलवे के एक अधिकारी ने कहा कि इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ है. उन्होंने बताया कि रेलवे के तकनीकी कर्मचारी आंधी-बारिश के कारण फंसी ट्रेन का निरीक्षण कर रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

अधिकारी ने कहा, ‘‘एक डीजल इंजन ट्रेन को मंजुरी रोड स्टेशन तक लाएगा क्योंकि पेंटोग्राफ ऊपरी तार से उलझा हुआ है. इसके बाद मंजुरी रोड स्टेशन से गंतव्य तक ट्रेन अपने इंजन के जरिए जाएगी.''