आफताब की दरिंदगी सुनकर हैरान है डॉक्टर गर्लफ्रेंड, कहा- "बहुत ज्यादा केयरिंग लगा था"

पुलिस को दिए बयान में महिला दोस्त ने कहा कि वो अक्टूबर के महीने में दो बार आफताब के फ्लैट पर आई थी. लेकिन उसे श्रद्धा की हत्या या घर में बॉडी पार्ट्स होने की हल्की सी भनक नहीं लगी.

आफताब की दरिंदगी सुनकर हैरान है डॉक्टर गर्लफ्रेंड, कहा-

आफताब ने अपनी इस दोस्त को  श्रद्धा की अंगूठी भी गिफ्ट की थी.

नई दिल्ली:

आफताब पूनावाला की नई गर्लफ्रैंड इस बात से बेखबर थी कि आफताब एक कातिल है और जिस फ्लैट में वह उससे मिलने जाती थी, वहां उसने हत्या कर रखी है. जैसे-जैसे दिल्ली पुलिस ने आफताब की कुंडली खंगालनी शुरू की तो पुलिस को पता लगा कि आफताब तकरीबन 15 से 20 लड़कियों के सम्पर्क में अलग-अलग डेटिंग साइट्स के जरिए आया था. जांच में पुलिस को बंबल ऐप के जरिए एक ऐसी लड़की के बारे में जानकारी मिली जो श्रद्धा की हत्या के करीब 12 दिन बाद यानी 30 मई को आफताब के संपर्क में ऐप के जरिए आई थी. 

ये लड़की पेशे से साइकेट्रिस्ट है, जब पुलिस को पता लगा कि ये लड़की कत्ल के बाद से आफताब के संपर्क में थी तो इससे पुलिस ने पूछताछ की. आफताब की इस दोस्त ने पुलिस को बताया कि आफताब के बर्ताव से कभी ऐसा नहीं लगा कि उसकी मनोस्थिति खराब है. पूछताछ में लड़की ने बताया कि आफताब से बातचीत मई महीने में बंबल ऐप के जरिए शुरू हुई और पहली बार आफताब के फ्लैट पर 12 अक्टूबर को गई थी. आफताब ने इसे अपने छतरपुर फ्लैट पर बुलाया था और दोनों ने साथ में वक्त बिताया था. इस दौरान आफताब का स्वभाव बिल्कुल नार्मल और बहुत ज्यादा केयरिंग लगा था. आफताब के पास कई तरह की वैरायटी के परफ्यूम का कलेक्शन था और अक्सर उसे परफ्यूम गिफ्ट भी दिया करता था.

लड़की ने बताया कि आफताब बहुत ज्यादा सिगरेट पीता था और सिगरेट बनाता भी था. लेकिन अक्सर जल्द सिगरेट छोड़ देने की बात भी करता था और बहुत खुश रहता था. पुलिस को दिए बयान में महिला दोस्त ने कहा कि वो अक्टूबर के महीने में दो बार आफताब के फ्लैट पर आई थी. लेकिन उसे श्रद्धा की हत्या या घर में बॉडी पार्ट्स होने की हल्की सी भनक नहीं लगी. आफताब कभी भी डरा सहमा नजर नहीं आया. वो अक्सर अपने मुम्बई के घर के बारे में बताता था और वो सितंबर में मुंबई गया था तो वहां के बारे में भी बताता था.  आफताब अलग-अलग तरह के फूड का बहुत शौकीन था और अक्सर घर पर बाहर से अलग-अलग रेस्टोरेंट से नॉनवेज आइटम मंगाता था और रेस्टोरेंट में शेफ किस तरह से खाने को डेकोरेट करते है, इस बारे में अपने शौक को भी बताता था. 

आफताब ने अपनी इस दोस्त को एक फैंसी अंगूठी गिफ्ट की थी जो सोने की नहीं थी बल्कि आर्टिफिशल थी. ये अंगूठी 12 अक्टूबर को गिफ्ट के तौर पर दी थी. ये श्रद्धा की थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पुलिस ने जब आफताब की इस डॉक्टर दोस्त को बताया कि आफताब ने इसी फ्लैट में श्रद्धा का कत्ल किया और अक्टूबर तक घर मे श्रद्धा के बॉडी पार्ट्स कभी फ्रीज तो कभी दोस्तों से छिपाने के लिए वो अलमारी में रखता था. ये सब सुनकर आफताब की ये दोस्त बेहद घबरा गई. आफताब की दोस्त ने पुलिस के सामने कहा कि उसे बहुत हैरानी हो रही है जिस तरह आफताब इसकी देखभाल और चिंता करता था, इससे कभी नहीं लगा कि आफताब ऐसा कर सकता है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक इस लड़की को वाकई आफताब ने भनक नहीं लगने दी कि इस फ्लैट में आफताब ने हत्या की है. 

Featured Video Of The Day

न्‍यूज @ 9 : राहुल गांधी ने श्रीनगर में फहराया तिरंगा, भारत जोड़ो यात्रा का कल औपचारिक समापन