विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 29, 2023

"चीन का भारत की जमीन पर कब्जा, लेकिन केंद्र का रवैया खतरनाक": सीमा विवाद पर बोले राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा कि भारत ने 65 गश्त बिंदुओं में से 26 तक पहुंच खो दी है. इसके बाद विदेश मंत्री एस जयशंकर ने राहुल गांधी पर तीखा हमला बोला. जयशंकर ने कहा कि वो जिस जमीन की बात कर रहे हैं, चीन ने उसपर 1962 में कब्जा किया था. लेकिन उनकी बातों से लग रहा है कि मानो बात कल या परसों की है.

Read Time: 4 mins
"चीन का भारत की जमीन पर कब्जा, लेकिन केंद्र का रवैया खतरनाक": सीमा विवाद पर बोले राहुल गांधी
राहुल गांधी ने लद्दाख के गलवान घाटी में 2021 में हुई हिंसक झड़प के बाद भी ऐसे आरोप लगाए थे.
श्रीनगर:

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi)ने चीन को लेकर फिर से केंद्र सरकार के चेतावनी दी है. श्रीनगर में 'भारत जोड़ो' यात्रा के समापन के मौके पर राहुल गांधी ने दावा किया कि लद्दाख में भारत का लगभग 2000 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र चीनी कब्जे में चला गया है. उन्होंने कहा, "मैं दोहराता रहता हूं कि चीन ने हमारी जमीन पर कब्जा (India-China Border Dispute)कर लिया है. लेकिन, सरकार पूरी तरह से इससे इनकार कर रही है. यह खतरनाक है. यह चीन को और अधिक आक्रामक चीजें करने के लिए आत्मविश्वास देगा. हमें चीनियों से सख्ती से निपटना होगा और उन्हें बताना होगा कि वे हमारी जमीन पर बैठे हैं, इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा."

राहुल गांधी ने कहा, 'भारत जोड़ो यात्रा के दौरान लद्दाख के लोग मिले हैं, जिन्होंने इस पर चर्चा की. एक लद्दाखी प्रतिनिधिमंडल ने स्पष्ट रूप से कहा कि 2000 वर्ग किमी भारतीय क्षेत्र को चीन ने हड़प लिया है. उन्होंने यह भी कहा कि कई पेट्रोलिंग पॉइंट जो भारत में हुआ करते थे अब चीनी के हाथों में हैं.'

राहुल गांधी ने लद्दाख में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी की एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि भारत ने 65 गश्त बिंदुओं में से 26 तक पहुंच खो दी है. इसके बाद विदेश मंत्री एस जयशंकर ने राहुल गांधी पर तीखा हमला बोला. जयशंकर ने कहा कि वो जिस जमीन की बात कर रहे हैं, चीन ने उसपर 1962 में कब्जा किया था. लेकिन उनकी बातों से लग रहा है कि मानो बात कल या परसों की है. मीडिया से बात करते हुए विदेश मंत्री ने राहुल गांधी का नाम तो नहीं लिया, लेकिन ये जरूर कहा कि वो राजनीतिज्ञ हैं और अपने कमजोर पहलू नहीं बताएंगे.

राहुल गांधी ने लद्दाख के गलवान घाटी में 2021 में हुई हिंसक झड़प के बाद भी ऐसे आरोप लगाए थे. इन आरोपों को दोहराते हुए उन्होंने कहा कि देश इस धारणा के तहत है कि चीनियों ने भारत से कोई जमीन नहीं ली है.

राहुल गांधी ने दक्षिण भारत के सुपर स्टार और नेता कमल हासन के साथ अपनी हालिया बातचीत में भी भारत-चीन सीमा विवाद पर चर्चा की थी. राहुल ने कहा था, 'चीनी हमसे कह रहे हैं कि आप सावधान रहिए. आप जो कर रहे हैं, उस पर हमारी नजर है. सावधान रहिए नहीं तो हम आपकी जियोग्राफी बदल देंगे. हम अरुणाचल में घुसेंगे, हम लद्दाख में दाखिल होंगे. चीन इसी तरह के रवैये के लिए प्लेटफॉर्म तैयार कर रहा है.'

राहुल गांधी के इस बयान पर बीजेपी की ओर से भी प्रतिक्रिया आई है. राहुल गांधी को "हमेशा भ्रमित" बताते हुए बीजेपी ने आरोप लगाया कि उन्होंने "अपनी मंशा स्पष्ट कर दी है कि भारत को चीन के सामने उसी तरह आत्मसमर्पण करना चाहिए, जैसा कि उनकी पार्टी की सरकार के दौरान हुआ करता था".

ये भी पढ़ें:-

"विपक्ष में मतभेद हैं, लेकिन वह साथ खड़ा होगा और लड़ेगा": पदयात्रा की समाप्ति के बाद राहुल गांधी

"अगर हालात अच्छे हैं तो अमित शाह जम्मू से लाल चौक पैदल क्यों नहीं जाते" : श्रीनगर में बोले राहुल गांधी

"राहुल ने तिरंगा ऐसे वक्त फहराया है जब...",PDP नेता महबूबा मुफ्ती ने BJP पर बोला हमला

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
स्वाति मालीवाल केस : अरविंद केजरीवाल के पीए विभव कुमार के खिलाफ चार्जशीट पेश, जानें क्या है इसमें
"चीन का भारत की जमीन पर कब्जा, लेकिन केंद्र का रवैया खतरनाक": सीमा विवाद पर बोले राहुल गांधी
Exclusive:"नॉन-क्रीमी लेयर" और 22 करोड़ रुपये की प्रापर्टी? यह है पूजा खेडकर की असलियत
Next Article
Exclusive:"नॉन-क्रीमी लेयर" और 22 करोड़ रुपये की प्रापर्टी? यह है पूजा खेडकर की असलियत
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;