राफेल जेट पहुंचने पर राहुल गांधी ने IAF को दी बधाई, साथ ही सरकार से पूछ डाले ये सवाल..

नये और अत्याधुनिक पांच राफेल लड़ाकू विमानों का बेड़ा आज अंबाला एयर बेस पहुंच गया. इन विमानों के वायुसेना में शामिल होने के बाद देश को आस-पड़ोस के प्रतिद्वंद्वियों की हवाई युद्धक क्षमता पर बढ़त हासिल हो जाएगी.

राफेल जेट पहुंचने पर राहुल गांधी ने IAF को दी बधाई, साथ ही सरकार से पूछ डाले ये सवाल..

राफेल डील को लेकर राहुल गांधी ने अपने पुराने सवाल फिर दोहराए हैं

नई दिल्ली:

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने राफेल फाइटर जेट (Rafale Plane)की पहली खेप के भारत आने पर बुधवार को वायुसेना (IAF) को बधाई दी और सवाल किया कि एक विमान की कीमत 526 करोड़ रुपये के बजाय 1670 करोड़ रुपये क्यों अदा की गई? उन्होंने यह सवाल भी किया कि 126 विमान के बजाय 36 विमान क्यों खरीदे गए और 30 हजार करोड़ रुपये का ठेका हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) के बजाय एक उद्योगपति को क्यों दिया गया?

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘राफेल के लिए वायुसेना को बधाई. इस बीच, सरकार इसका जवाब दे सकती है कि प्रति विमान 526 करोड़ रुपये के बजाय 1670 करोड़ रुपये की कीमत क्यों पड़ी? कुल 126 विमानों के बजाय 36 विमान क्यों खरीदे गए? हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) के बजाय दिवालिया हो चुके अनिल को 30 हजार करोड़ रुपये का ठेका क्यों दिया गया?''

राहुल गांधी का निशाना - बैंकिंग सिस्टम साफ किया, इसलिए गई उर्जित पटेल की नौकरी...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि नये और अत्याधुनिक पांच राफेल लड़ाकू विमानों का बेड़ा आज अंबाला एयर बेस पहुंच गया. इन विमानों के वायुसेना में शामिल होने के बाद देश को आस-पड़ोस के प्रतिद्वंद्वियों की हवाई युद्धक क्षमता पर बढ़त हासिल हो जाएगी. निर्विवाद ट्रैक रिकॉर्ड वाले इन राफेल विमानों को दुनिया के सबसे बेहतरीन लड़ाकू विमानों में से एक माना जाता है.फ्रांस के बोरदु शहर में स्थित मेरिगनेक एयरबेस से 7,000 किलोमीटर की दूरी तय करके ये विमान आज दोपहर हरियाणा में स्थित अंबाला एयरबेस पर उतरे.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)