PM मोदी ने लोगों को दी रमज़ान की मुबारकबाद, समाज में की एकता और सद्भाव की कामना

रमजान का महीना इस्लामिक कैलेंडर का 9वां महीना होता है, जिसे सबसे पाक महीना माना जाता है. दुनिया भर में मुसलमानों के लिए ये पवित्र महीना बेहद अहम होता है.

PM मोदी ने लोगों को दी रमज़ान की मुबारकबाद, समाज में की एकता और सद्भाव की कामना

पीएम मोदी ने लोगों को रमजान की बधाई दी.

नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस्लाम में पवित्र माने जाने वाले महीने रमज़ान की शुरुआत होने पर शुक्रवार को लोगों को मुबारकबाद दी. पीएम मोदी ने ट्वीट किया, "यह पवित्र महीना हमारे समाज में और एकता एवं सद्भाव लाए. यह गरीबों की मदद करने की अहमियत को बढ़ावा दे."

बता दें कि इस पवित्र महीने के दौरान मुस्लिम समुदाय के सदस्य सूरज निकलने से लेकर सूर्यास्त तक न कुछ खाते हैं और न पीते हैं. लोग ज्यादा से ज्यादा वक्त अल्लाह की इबादत में लगाते हैं. यह सिलसिला ईद का चांद दिखने तक जारी रहता है.

पहला रोज़ा आज है. एक लगभग महीना चलता है. 29 या 30 दिन की संख्या चांद दिखने पर निर्भर करती है. रमज़ान का चांद दिखने के बाद अगले दिन से पवित्र महीने का आगाज़ हो जाता है.

साथ में शाम में मस्जिदों में विशेष नमाज़ अदा की जाती है, जिसे 'ताराहवी' कहा जाता है. इस नमाज़ में पूरे कुरान का पाठ किया जाता है. यह सिलसिला ईद का चांद दिखने तक जारी रहता है. इस बार ईद 21 या 22 अप्रैल को पड़ सकती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

रमजान का महीना इस्लामिक कैलेंडर का 9वां महीना होता है, जिसे सबसे पाक महीना माना जाता है. दुनिया भर में मुसलमानों के लिए ये पवित्र महीना बेहद अहम होता है. ये आध्यात्मिक और खुद को अल्लाह से जोड़ने का महीना होता है. उपवास रखने वाले लोग सहरी के बाद सीधे शाम को सूर्यास्त के बाद ही भोजन करके रोजा खोलते हैं. शाम के इस भोजन को इफ्तार कहा जाता है.

अन्य खबरें