पुलिस अफसर बनकर बुजुर्गों से ठगी करने वाले कुख्यात अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने पुलिस अफ़सर बनकर अलग अलग राज्यों में बुजुर्गों से ठगी करने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में गिरोह के मास्टरमाइंड समेत 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस अफसर बनकर बुजुर्गों से ठगी करने वाले कुख्यात अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़

पुलिस ने गिरोह के मास्टरमाइंड समेत 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने पुलिस अफ़सर बनकर अलग अलग राज्यों में बुजुर्गों से ठगी करने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में गिरोह के मास्टरमाइंड समेत 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. क्राइम ब्रांच के डीसीपी राजेश देव के मुताबिक एसटीएफ के इंस्पेक्टर दलीप कुमार की टीम की सूचना मिली कि एक गैंग है जो पुलिस अफसर बनकर बुजुर्गों से ठगी करता है.  इसी सूचना पर काम करते हुए 26 मई को सराय काले खां के पास से गैंग के 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया. पूछताछ के दौरान उन्होंने खुलासा किया कि गैंग के 2 लोग पुलिस अफसर बनकर बुजुर्गों को निशाना बनाना चाहते थे.

ये लोग पुलिस जांच के बहाने बुजुर्गों से गहने उतारने के लिए कहते थे. फिर वे गहनों को एक कागज के पैकेट में पैक करते थे और असली गहने वापस करने के बजाय, वे पीड़ित को उसी पैकेट में नकली गहने सौंप देते थे. इस बीच गिरोह का एक अन्य सदस्य राहगीर होने का नाटक करते हुए आता था और पीड़ित का विश्वास हासिल करने के लिए उसको अपना सामान सौप देता था. गैंग का एक मेम्बर कुछ दूरी पर नजर रखने के लिए तैनात किया जाता था और गिरोह का अन्य सदस्य लूट के बाद भागने के लिए कार या बाइक के साथ इंतजार करता था

यह गिरोह गहनों की दुकानों के कुरियर को भी निशाना बनाता है. ये लोग क्राइम ब्रांच और सीबीआई अधिकारी बनकर चेकिंग के बहाने उन्हें लूटते थे और भाग जाते थे. ये लोग जहां अपराध करते वहीं आसपास होटलों में ठहरते थे.पकड़े गए आरोपियों के नाम निसार मिश्किन सैय्यद,इकबाल,सलमान अली और शब्बीर हैं. आरोपी निसार मिश्किन सैय्यद इस गिरोह का सरगना है और मुंबई, नागपुर में मकोका मामले सहित पांच मामलों में वांछित है.

इनके कब्जे से यूपी पुलिस, बिहार पुलिस और भारतीय सेना के बैज वाले तीन कैप बरामद हुए हैं. इससे पहले 16 मई को को इसी टीम ने इस गिरोह के 2 सदस्यों गुलाम अली उर्फ ​​काकड़ी और बकर अली को गिरफ्तार किया था. गिरोह के पास से सोने के गहने बरामद हुए हैं.

ये भी पढ़ें- 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video : राज्‍यसभा चुनाव को लेकर खुलकर बोले जयंत चौधरी, कहा- मैंने राज्‍यसभा जाने के लिए जिद नहीं की