विज्ञापन
Story ProgressBack

NEET पेपर लीक मामले को लेकर आज भी मचा रहा बवाल, देखें बड़े अपडेट्स

NEET Paper Leak: नीट परीक्षा में हुई कथित अनियमितताओं के खिलाफ शुक्रवार को कांग्रेस कार्यकर्ता और नेताओं ने दिल्ली, जयपुर, बेंगलुरु, चेन्नई, मुंबई समेत विभिन्न जगहों पर विरोध प्रदर्शन किया. दरअसल कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने देश भर के कांग्रेस नेताओं से एकजुट होने की अपील की थी.

NEET Exam 2024: नीट में कथित धांधली पर आज क्या-क्या हुआ.

नई दिल्ली:

मेडिकल में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा NEET पर इन दिनों जमकर विवाद हो रहा है. दरअसल 5 मई को हुए नीट के एग्जाम (NEET Exam) में एक यो दो नहीं पूरे 67 बच्चों ने टॉप किया, जो अपने आप में चौकाने वाली बात है. वहीं कथित तौर पर पेपर लीक का भी खुलासा हुआ है. इस मामले में बिहार से 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. ये वही लोग हैं, जिन्होंने परीक्षा से पहले लीक पेपर खरीदा था. मेडिकल की परीक्षा देने वाले एक छात्र के फूफा सिकंदर ने लीक पेपर को 40 लाख में इन लोगों तक पहुंचाया था. इस मामले में बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के पीएस का नाम भी सामने आ रहा है, जिसके बाद राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप भी जारी हैं. वहीं MBBS के ड्रॉप आउट स्टूडेंट रवि अत्री को पेपर लीक मामले में गिरफ्तार किया गया है. इस मामले में आज क्या-क्या हुआ, जानते हैं.

सुप्रीम कोर्ट का NEET काउंसलिंग पर रोक से इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने आज एक बार फिर से NEET की काउंसलिंग पर रोक लगाने से इनकार कर दिया. अदालत ने कहा कि अगर 5 मई को हुआ एग्जाम रद्द किया जाता है तो सबकुछ खुद ही रद्द हो जाएगा. हालांकि याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए अदालत ने NTA से दवाब तलब किया है.वहीं अन्य याचिकाओं पर सुनवाई 8 जुलाई को होगी. 

दिल्ली यूनिवर्सिटी में छात्रों ने दिखाए काले झंडे

दिल्ली यूनिवर्सिटी में भी नीट परीक्षा में कथित गड़बड़ियों को लेकर विरोध प्रदर्शन हुआ. शुक्रवार को यहां छात्र विरोध प्रदर्शन के दौरान नारेबाजी करते हुए हाथों में काले झंडे लेकर सड़कों पर निकले. आज केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को दिल्ली विश्वविद्यालय पहुंचना था. डीयू में हो रहे इस विरोध प्रदर्शन के बीच धर्मेंद्र प्रधान ने अपना यह कार्यक्रम रद्द कर दिया. प्रदर्शनकारी छात्रों ने कहा कि शिक्षा मंत्रालय के तहत आने वाले एनटीए ने छात्रों के भविष्य को खतरे में डाला है, और इस पूरे प्रकरण पर अभी तक शिक्षा मंत्री द्वारा कोई ठोस कार्रवाई नहीं की गई है. प्रदर्शन कर रहे आइसा के सदस्यों और डीयू के अन्य छात्रों ने यहां काले झंडे लहराए. ये छात्र शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं.

विजय सिन्हा के आरोप पर मनोज झा का पलटवार

नीट पेपर लीक मामले में बिहार के डिप्टी सीएम विजय सिन्हा का आरोप है कि इस मामले में गिरफ्तार आरोपी सिकंदर यदुवेन्दु का कनेक्शन आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के सचिव प्रीतम के साथ था. वहीं आरजेडी प्रवक्ता मनोज झा ने इस आरोप को पूरी तरह बेबुनियाद बताया है. अब मनोज झा के बयान पर पलटवार करते हुए डिप्टी सीएम विजय सिन्हा ने कहा है कि मनोज झा विद्वान आदमी हैं, उनकी विद्वता प्रकट होती रहती है. उन्होंने कहा, हम लोग सम्मान के लिए स्वाभिमान छोड़ने वाले नहीं हैं और सामाजिक ताना-बाना में जातीय उन्माद पैदा करने की मानसिकता के साथ जिस आरजेडी की गोद में वो बैठे हुए हैं, उससे वह मुक्त हो जाएं. बंधुआ मजदूरी करने वाले लोग न समाज के हितैषी हैं, ना राष्ट्र के हितेषी. सच को स्वीकार करने की ताकत रखें. विजय सिन्हा ने कहा, आरजेडी का कल्चर अपराध और भ्रष्टाचार को पोषित, प्रशिक्षित और प्रेरित करना है. तेजस्वी पर निशाना साधते हुए विजय सिन्हा ने कहा कि सोने के चम्मच को लेकर पैदा होने वाले लोग हकीकत नहीं जान पाते.  

'हमारे PS की गलती है तो गिरफ्तार कर लो'

नीट पेपर लीक मामले में सचिव का नाम आने पर तेजस्वी यादव ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि अगर अगर उसने गलती की है तो उसे सरकार गिरफ्तार कर ले. उनको इसमें कोई भी दिक्कत नहीं है. उनका कहना है कि सीएम PA,PA सबको बुलाकर पूछताछ कर लें. उन्होंने कहा कि सिर्फ विजय सिन्हा ही सवाल उठा रहे हैं वरना EOU ने इस पर कुछ भी नहीं कहा है. तेजस्वी यादव का आरोप है कि किंगपिन को बचाने के लिए मामले को डयावर्ट करने की कोशिश की जा रही है. उनका दावा है कि आरोपी की फोटो को सम्राट चौधरी के साथ सामने आई है. उनका कहना है कि अमित आनंद पेपर लीक केस का मास्टरमाइंड है, उस पर एक्शन लिया जाना चाहिए. 

लखनऊ में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का विरोध-प्रदर्शन

नीट यूजी परीक्षा में कथित पेपर लीक को लेकर कांग्रेस ने शुक्रवार को लखनऊ में जोरदार विरोध-प्रदर्शन किया. विधानसभा घेरने जा रहे प्रदर्शनकारियों और पुलिस की बीच जमकर झड़प भी हुई. कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने वहां लगी बैरिकेडिंग को तोड़ने का भी कोशिश की. इस दौरान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय राय को हिरासत में ले लिया गया. कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय राय के नेतृत्व में पदाधिकारी और कार्यकर्ता पार्टी मुख्यालय से विधान भवन का घेराव करने जा रहे थे. इसी दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प हो गई. पुलिस ने अजय राय और कांग्रेस कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया. अजय राय ने कहा कि कांग्रेस पार्टी छात्रों के साथ खड़ी है,  हम उनके अधिकारों की लड़ाई सड़कों पर लड़ेंगे,  उन्हे न्याय दिलाएंगे. उन्होंने आरोप लगाया कि परीक्षा में तकनीकी गड़बड़ी हुई और अनुचित साधनों का प्रयोग किया गया.  उनका आरोप है कि आए दिन पर्चा लीक होने की घटनाएं हो रही हैं. बीजेपी की जहां सरकारे हैं, वहां पर घटनाएं हो रही हैं.

ये भी पढ़ें-NEET के लीक पेपर से रातभर रट्टा लगाया और नंबर ऐसे! आप भी कहेंगे नकल के लिए भी अकल चाहिए

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
"दादाजी प्रेरणा हैं'..." : ट्रंप की यह पोती कौन है, जिन्होंने RNC में की अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति की तारीफ
NEET पेपर लीक मामले को लेकर आज भी मचा रहा बवाल, देखें बड़े अपडेट्स
सुप्रीम कोर्ट ने दी सजा: जानिए क्यों बारी-बारी 6-6 महीने जेल काटेगी महिला और उसका दूसरा पति
Next Article
सुप्रीम कोर्ट ने दी सजा: जानिए क्यों बारी-बारी 6-6 महीने जेल काटेगी महिला और उसका दूसरा पति
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;