लखीमपुर रेप-हत्या केस : पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में नाबालिग बहनों के साथ रेप, हत्या की पुष्टि

Lakhimpur : पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दावा है कि पहले लड़कियों से दोस्ती, फिर रेप और हत्या की गई. इस मामले में लिप्ट सभी 6 लोगों को हिरासत में ले लिया गया है. सभी आरोपी लालपुर गांव के रहने वाले हैं.

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर-खीरी में दो नाबालिग सगी बहनों की हत्या के बाद उनके शव को पेड़ से लटकाए जाने के पूरे मामले में पुलिस सूत्रों से पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट को लेकर अहम जानकारियां मिली हैं. सूत्रों का कहना है कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में रेप, गला घोंटने और लटकाने की बात सामने आई है. इससे पहले पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दावा है कि पहले लड़कियों से दोस्ती, फिर रेप और हत्या की गई. इस मामले में लिप्ट सभी 6 लोगों को हिरासत में ले लिया गया है. सभी आरोपी लालपुर गांव के रहने वाले हैं. पुलिस के मुताबिक- लड़कियों की हत्या गला दबाकर की गई. हत्या के बाद आरोपियों ने सबूत मिटाए. दो आरोपियों ने गुनाह कबूल कर लिया है. धारा 302, 306 और POCSO के तहत मामला दर्ज किया गया है.

नाबालिग लड़कियों की मां का कहना है कि  गांव के ही एक लड़के के साथ तीन अज्ञात लड़के जिन्हें मेरे सामने आने पर मैं पहचान सकती हूं, जो मेरे घर अचानक आए और घर में घुसकर मेरी बेटियों पर झपटे और हाथापाई करके दोनों बेटियों को उठाने लगे और मेरे रोकने पर एक ने मुझे रोक लिया और लात मारकर गिरा दिया. उसके साथी दोनों बेटियों को जबरन मोटर साइकिल पर लादकर गांव के बाहर खेतो में उत्तर की तरफ लेकर चले गए. काफी देर ढूंढने के बाद शव पेड़ से लटके मिले. परिजनों का आरोप है कि दोनों नाबालिग बच्चियों के साथ दुष्कर्म करने के बाद हत्या करके फांसी के फंदे से बांधकर पेड़ की टहनी से लटका दिया. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आपको बता दें कि यूपी पुलिस ने इस मामले में नाबालिग बहनों की मां की लिखित शिकायत के बाद FIR दर्ज की थी. कल इस घटना के बाद पीड़ित के घरवालों ने पुलिस पर शव को ज़बरदस्ती क़ब्ज़े में लेने का आरोप लगाते हुए हंगामा भी किया था. इस दौरान पुलिस और गांववालों के बीच तीखी झड़प भी हुई. नाराज़ गांव वालों ने जाम भी लगा दिया. इस दौरान घटना स्थल पर पहुंचे लखीमपुर खीरी के एसपी संजीव सुमन के साथ भी ग्रामीणों की नोकझोंक हुई थी.