विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Feb 02, 2022

भारत ने आईएनएस विक्रांत के लिए राफेल-मरीन का उड़ान परीक्षण किया

फ्रांस (France) निर्मित लड़ाकू विमान राफेल के समुद्री संस्करण का गोवा में सफल उड़ान परीक्षण किया गया है और इसके लिए परिस्थितियां ठीक वैसी ही बनाई गई थीं जैसी स्वदेश विकसित विमान वाहक पोत आईएनएस विक्रांत पर होती हैं.

भारत ने आईएनएस विक्रांत के लिए राफेल-मरीन का उड़ान परीक्षण किया
रक्षा सूत्रों ने बताया कि आपूर्तिकर्ताओं ने राफेल-एम और सुपर हॉर्नेट दोनों में बदलाव किये हैं
नई दिल्ली:

फ्रांस (France) निर्मित लड़ाकू विमान राफेल के समुद्री संस्करण का गोवा में सफल उड़ान परीक्षण किया गया है और इसके लिए परिस्थितियां ठीक वैसी ही बनाई गई थीं जैसी स्वदेश विकसित विमान वाहक पोत आईएनएस विक्रांत पर होती हैं. एक शीर्ष राजनयिक ने यह जानकारी दी. राफेल-एम (Rafale M) की प्रतिस्पर्धा अमेरिका निर्मित सुपर हॉर्नेट से है. भारतीय नौसेना द्वारा 44,000 टन के आईएनएस (INS) विक्रांत पर तैनाती के लिए संभावित खरीद के लिए इन दोनों का मूल्यांकन किया जा रहा है. आईएनएस विक्रांत का अरब सागर और बंगाल की खाड़ी में परीक्षण चल रहा है और यह अगस्त से सेवा में आ सकता है.

राजपथ पर 'नारी शक्ति' का प्रदर्शन: IAF की झांकी में दिखीं राफेल की एकमात्र महिला फाइटर 

भारत में फ्रांस के राजदूत एमैनुअल लेनैं ने मंगलवार शाम को यहां कहा, ‘‘राफेल मरीन की आपके विमान वाहक पोत से उड़ान भरने की क्षमता देखने के लिए परीक्षण किए गए और ये अच्छे रहे.' भारत के नये विमान वाहक पोत को ‘स्की-जंप' लांच शिप की तरह डिजाइन किया गया है जिससे कोई विमान इसकी गति की मदद से उड़ान भर सकता है और यह अन्य विमान वाहक पोतों से अलग है जो विमान के उड़ान भरने के लिए कैटापुल्ट लांच नामक उपकरण या तकनीक का इस्तेमाल करते हैं.

राफेल मामले में नया ट्विस्‍ट : कागजात बताते हैं, जांच एजेंसी ने कथित दलाली के आरोपों पर कार्रवाई नहीं की

लेनैं ने कहा कि राफेल-एम विमान का पिछले महीने 12 दिन तक गोवा के आईएनएस हंसा केंद्र से परीक्षण किया गया और इसके लिए 283 मीटर की कृत्रिम स्की-जंप सुविधा का इस्तेमाल किया गया. बोइंग के सुपर हॉर्नेट या एफ/ए-18 विमानों को भी भारत को बेचने के लिए पेशकश की जा रही है और अगले महीने इनका भी आईएनएस हंसा पर इस तरह का परीक्षण हो सकता है. रक्षा सूत्रों ने बताया कि आपूर्तिकर्ताओं ने राफेल-एम और सुपर हॉर्नेट दोनों में बदलाव किये हैं ताकि उन्हें भारत के ऑर्डर के लिहाज से बनाया जा सके.

भारत को अप्रैल 2022 तक मिलेंगे 6 और राफेल विमान: भारत में फ्रांस के राजदूत

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;