'हमे एकजुट होकर नफ़रत को हराना है': उदयपुर मर्डर के बाद राहुल गांधी

राजस्थान के उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट शेयर करने के बाद  एक दर्जी की सरेआम हत्या कर दी गई. कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने इस घटना की निंदा करते हुए लोगों से शांत रहने की अपील की.

'हमे एकजुट होकर नफ़रत को हराना है': उदयपुर मर्डर के बाद राहुल गांधी

उदयपुर में तनाव को देखते हुए इंटरनेट भी बंद कर दिया गया है.

नई दिल्ली:

राजस्थान के उदयपुर में नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) के समर्थन में पोस्ट शेयर करने के बाद एक दर्जी की सरेआम हत्या कर दी गई. कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने इस घटना की निंदा करते हुए लोगों से शांत रहने की अपील की है. उदयपुर के भीड़भाड़ वाले बाजार में मंगलवार दोपहर दो लोग ने कन्हैया लाल नाम के एक दर्जी की दुकान में घुसकर गला रेत कर हत्या कर दी. जिसके बाद देशभर में तनाव का माहौल है. कांग्रेस शासित राज्य में आज दोपहर हुए इस घटना के बाद दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उदयपुर में हुई इस घटना के खिलाफ ट्वीट करते हुए कहा है कि 'धर्म के नाम पर बर्बरता बर्दाश्त नहीं की जा सकती. उन्होने ट्वीट के जरिये कहा है कि उदयपुर में हुई जघन्य हत्या से मैं बेहद स्तब्ध हूं . धर्म के नाम पर बर्बरता बर्दाश्त नहीं की जा सकती. इस हैवानियत से आतंक फैलाने वालों को तुरंत सख़्त सज़ा मिलेय. हम सभी को साथ मिलकर नफ़रत को हराना है. उन्होने लोगों से शांत रहने की अपील की है. उन्होनें अपने ट्विटर हैंडिल पर लिखा है  ' मेरी सभी से अपील है, कृपया शांति और भाईचारा बनाए रखें.'

कांग्रेस नेता प्रियांका गांधी ने भी इस घटना की आलोचना करते हुए ट्वीट किया है. उन्होने अपने ट्विटर हैंडिल के जरिये कहा है कि 'उदयपुर में घटी हिंसक घटना की जितनी निंदा की जाए उतनी कम है. दोषियों को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए.  उन्होने ट्वीट में लिखा है कि धर्म के नाम पर नफरत, घृणा व हिंसा फैलाने वाले मंसूबे हमारे देश व समाज के लिए घातक हैं.  हमें मिलकर शांति व अहिंसा के प्रयासों को मजबूत करना होगा.'

गौरतलब है कि टेलर ने नुपुर शर्मा के समर्थन में एक सोशल मीडिया पोस्ट किया था. इसके बाद उसकी सरेआम हत्या कर दी गई. घटना को लेकर कुछ वीडियो भी वायरल हुए हैं. हालांकि पुलिस ने लोगों से किसी भी तरह की अफवाहों से बचने को कहा है. उदयपुर में तनाव को देखते हुए इंटरनेट भी बंद कर दिया गया है. 600 अतिरिक्त पुलिसकर्मी वहां भेजे गए हैं. देर शाम दो संदिग्धों को राजसमंद से गिरफ्तार कर लिया गया है.गिरफ्तार आरोपी गौस मोहम्मद पुत्र रफीक मोहम्मद और रियाज़ पुत्र अब्दुल जब्बार हैं. दोनों उदयपुर के सूरजपोल क्षेत्र के निवासी हैं.
 

ये भी पढ़ें  :  उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल की हत्या में दो गिरफ्तार, मर्डर का बनाया था वीडियो

"वीडियो न देखें, यह भयावह है", शहर के शीर्ष पुलिस अधिकारी की अपील

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इसे भी देखें : Udaipur Murder: '...राजस्थान में तब तक नहीं हो सकती शांति' - गुलाबचंद कटारिया