हरियाणा : MLA के बेटे का दावा - BJP नेता ने ठगा, SI भर्ती के लिए ले गया था 49 लाख रुपये

पुलिस ने बताया कि उनकी टीम अभी मामले की जांच कर रही है और उसके बाद आगे की कार्रवाई करेगी.

हरियाणा : MLA के बेटे का दावा - BJP नेता ने ठगा, SI भर्ती के लिए ले गया था 49 लाख रुपये

शिकायतकर्ता पूंडरी से निर्दलीय विधायक रणधीर गोलन के बेटे अमित सिंह.

चंडीगढ़:

हरियाणा पुलिस ने पूंडरी से निर्दलीय विधायक रणधीर गोलन के बेटे अमित सिंह के साथ कथित धोखाधड़ी करने पर एक युवक के खिलाफ मामला दर्ज किया है. शिकायत के मुताबिक, अमित के मामा के लड़के का सलेक्शन पुलिस सब-इंस्पेक्टर पद पर कराने के लिए 49 लाख रुपए ठगे गए हैं. अमित ने पंचकूला के सेक्टर 14 पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई है.

शिकायत में अमित ने कहा कि विनोद खरब नाम के एक युवक ने साल 2020 में वादा किया था कि वह उसके मामा के लड़के का सलेक्शन पुलिस सब इंस्पेक्टर के पद पर करवा देगा. शिकायत में खरब को भाजपा के किसान मोर्चा से जुड़ा हुआ बताया गया है. वहीं, पानीपत के भाजपा जिला अध्यक्ष अर्चना गुप्ता का कहना है कि खरब पहले किसान मोर्चा से जुड़ा हुआ था, लेकिन बाद में पार्टी ने निष्कासित कर दिया था.

विधायक के बेटे अमित ने बताया, 'मैं साल 2013 में भाजपा युवा मोर्चा से जुड़ा हुआ था, आरोपी भी उसमें शामिल था. तब से उसका घर पर आना जाना था. पिताजी के विधायक बनने के बाद ज्यादा आने जाने लगा. मुझे एक दिन आकर कहता है कि हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग में उसका संपर्क हैं, और वहां सब-इंस्पेक्टर पद की भर्ती निकली हुई है. मैं सलेक्शन करवा दूंगा. मेरे मामा के लड़के ने आवेदन किया हुआ था, मुझे लगा कि वह सलेक्शन करवा देगा. वह पहले मुझसे 25 लाख रुपए ले गया. उसके बाद पेपर हुए और फिर कहता है कि पेपर में पास हो गया और फिर 24 लाख रुपए ले गया. लेकिन जब रिजल्ट आया तो उस लिस्ट में मेरे मामा के लड़के का नाम नहीं था.'

अमित ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि विनोद खरब भाजपा किसान मोर्चा की प्रदेश कार्यकारणी का सदस्य है.

अमित ने साथ ही बताया, 'मैं मेरे पैसे वापस लेने के लिए पिछले एक साल से लगा हुआ हूं. लेकिन वह लगातार बहाने बना रहा था. मैं एक बार उसके गांव पहुंचा तो उसके गांववालों ने बताया कि वह ठग किस्म का आदमी है, उसने कई और लोगों से भी 10-15 करोड़ रुपए ठग रखे हैं. जब उसके घर पहुंचे तो उसने जान से मारने की धमकियां दीं. लेकिन जब शिकायत दर्ज हुई तो वह सेशन और हाईकोर्ट पहुंचा, लेकिन दोनों ही कोर्ट में उसे अग्रिम जमानत देने से मना कर दिया.'

एसएचओ अनिल कुमार ने बताया, 'पांच जुलाई को शिकायत मिली थी. शिकायत विधायक के बेटे अमित की ओर से दाखिल की गई थी. अमित से विनोद खरब नाम के एक युवक ने पैसे लिए थे. शिकायत के मुताबिक विनोद ने अमित से सब इंस्पेक्टर भर्ती के लिए 49 लाख रुपए लिए थे. अब शिकायतकर्ता अपने पैसे वापस मांग रहा है. पुलिस आगे की जांच करके उसे गिरफ्तार करने की कार्रवाई करेगी.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बता दें, पूर्व भाजपा नेता और निर्दलीय विधायक रणधीर गोलन भाजपा-जेजेपी सरकार का समर्थन करते हैं.