कांग्रेस के पूर्व सांसद ने अपने साथियों, NCP को चेताया, 'नाखुशी दिखाई, तो उद्धव इस्तीफा दे देंगे...'

76-वर्षीय यशवंतराव गदख ने यह टिप्पणी तब की है, जब कांग्रेस के कई नेताओं ने मंत्रालयों के बंटवारे को लेकर निराशा जताई.

कांग्रेस के पूर्व सांसद ने अपने साथियों, NCP को चेताया, 'नाखुशी दिखाई, तो उद्धव इस्तीफा दे देंगे...'

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे.

मुंबई:

महाराष्ट्र के पूर्व कांग्रेस सांसद यशवंतराव गदख ने अपने पार्टी के साथियों और शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के उन नेताओं को चेताया है., जिन्होंने पिछले माह मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे द्वारा किए कैबिनेट विस्तार में मिले मंत्रालयों को लेकर नाखुशी जताई थी. कड़ा संदेश देते हुए यशवंतराव गदख ने कहा, "सही व्यवहार करें, वरना उद्धव ठाकरे इस्तीफा दे देंगे..."

76-वर्षीय यशवंतराव गदख ने यह टिप्पणी तब की है, जब कांग्रेस के कई नेताओं ने मंत्रालयों के बंटवारे को लेकर निराशा जताई. नाखुशी जताने वाले वरिष्ठ नेता विजय वडेट्टीवार को तो पार्टी नेतृत्व को समझाना पड़ा था. अहमदनगर लोकसभा सीट से तीन बार चुनाव जीत चुके गदख ने कहा कि उद्धव ठाकरे 'सामान्य राजनेता' नहीं हैं, और 'उनकी मानसिकता एक कलाकार की है...'

उन्होंने सुझाव दिया कि शिवसेना के नेतृत्व में बनाई गई महाराष्ट्र विकास अघाड़ी (MVA) के घटक NCP और कांग्रेस के नेताओं को 'मंत्रालयों को लेकर शिकायतें करना बंद कर देना चाहिए...'

पूर्व CM नारायण राणे ने उद्धव ठाकरे की सरकार को बताया 'नकारा', कहा- 56 में 35 विधायक नहीं हैं संतुष्ट

लम्बी चर्चा और विचार-विमर्श के बाद उद्धव ठाकरे ने पिछले माह कैबिनेट विस्तार किया था, जिससे पहले कैबिनेट पदो तथा मंत्रालयों को लेकर तीनों पार्टियों के बीच तनाव था. इस विस्तार में NCP स्पष्ट रूप से विजेता बनकर उभरी थी, क्योंकि उसे शरद पवार के भतीजे अजित पवार को दिए गए उपमुख्यमंत्री पद के साथ-साथ गृह, वित्त तथा जल संसाधन मंत्रालय भी मिले.

महाराष्ट्र में मंत्रालयों के बंटवारे में भी शरद पवार साबित हुए 21, पढ़ें, 10 बड़ी बातें

विधानसभा चुनाव से पहले शिवसेना में शामिल हुए कांग्रेस नेता अब्दुल सत्तार ने कथित रूप से कैबिनेट पद नहीं दिए जाने की वजह से इस्तीफा दे दिया था, जिसे उन्होंने बाद में वापस ले लिया.

महाराष्ट्र : महत्वपूर्ण विभाग न मिलने पर कांग्रेस के अंदर असंतोष, प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोराट निशाने पर

गठबंधन में दिखने लगे असंतोष को लेकर BJP ने उद्धव ठाकरे सरकार पर हमलावर होते हुए कहा था, "सरकार गिर जाएगी, क्योंकि बहुत-से नेता नाखुश हैं..." इस असंतोष को लेकर इसी माह की शुरुआत में BJP नेता तथा पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी एक रैली के दौरान शिवसेना-नीत MVA को निशाना बनाया था. उन्होंने कहा था, "मंत्रिमंडल विस्तार के लिए एक माह का समय लिया गया... उसके एक सप्ताह बाद भी वे मंत्रालयों का बंटवारा नहीं कर सके हैं... और अब मंत्रालयों का बंटवारा होने से भी पहले एक मंत्री ने इस्तीफा दे दिया है... यह सरकार के अंत की शुरुआत है..."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: महाराष्ट्र: एक महीने की जद्दोजहद के बाद बंटे मंत्रालय