विज्ञापन
Story ProgressBack

पूर्व फुटबॉलर बाइचुंग भूटिया ने राजनीति छोड़ने का किया ऐलान, बताई ये वजह

भूटिया ने अफसोस जताया, "मेरा एकमात्र अफसोस यह है कि मुझे लगा कि मेरे पास खेल और पर्यटन के विकास के संबंध में बहुत अच्छे विचार थे, जिन्हें अगर मौका मिलता, तो मैं उन्हें लागू करना पसंद करता और इस तरह बहुत ईमानदार और ईमानदारी से राज्य के विकास में योगदान देता." दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हो सका. मुझे यकीन है कि ऐसा करने के लिए बेहतर विचार रखने वाले और भी लोग होंगे."

Read Time: 3 mins
पूर्व फुटबॉलर बाइचुंग भूटिया ने राजनीति छोड़ने का किया ऐलान, बताई ये वजह

भारतीय फुटबॉल आइकन बाईचुंग भूटिया ने मंगलवार को चुनावी राजनीति छोड़ दी है. भूटिया की ओर जारी एक प्रेस बयान में उन्होंने कहा, "2024 के चुनाव परिणामों के बाद मुझे एहसास हुआ है कि चुनावी राजनीति मेरे लिए बिल्कुल नहीं है. इसलिए मैं तत्काल प्रभाव से सभी प्रकार की चुनावी राजनीति छोड़ रहा हूं."

हमरो सिक्किम पार्टी के पूर्व अध्यक्ष ने इस साल की शुरुआत में अपनी पार्टी का सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट में विलय कर दिया था और एसडीएफ के टिकट पर बारफुंग से चुनाव लड़ा था. वह मात्र 4012 वोट पाकर 4346 वोटों के अंतर से हार गए. वह एसकेएम पार्टी के नौसिखिए राजनीतिक रिक्शाल दोरजी भूटिया (8358 वोट) से हार गए.

भूटिया ने अफसोस जताया, "मेरा एकमात्र अफसोस यह है कि मुझे लगा कि मेरे पास खेल और पर्यटन के विकास के संबंध में बहुत अच्छे विचार थे, जिन्हें अगर मौका मिलता, तो मैं उन्हें लागू करना पसंद करता और इस तरह बहुत ईमानदार और ईमानदारी से राज्य के विकास में योगदान देता." दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हो सका. मुझे यकीन है कि ऐसा करने के लिए बेहतर विचार रखने वाले और भी लोग होंगे."

भूटिया ने मंच पर सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा पार्टी और मुख्यमंत्री प्रेम सिंह गोले को 2024 सिक्किम विधानसभा चुनाव जीतने के लिए बधाई भी दी. उन्होंने साझा किया, "सिक्किम के लोगों ने उन्हें एक शानदार जनादेश दिया है और मुझे उम्मीद है कि एसकेएम सरकार अपने वादों को पूरा करने और सिक्किम को सभी क्षेत्रों में नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए काम करेगी."

भूटिया ने कहा, "मैं केवल पूरी ईमानदारी और विनम्रता के साथ कह सकता हूं कि राजनीति में मेरा इरादा राज्य और देश दोनों के लोगों के लिए अच्छा करना था." 

उन्होंने उन लोगों को धन्यवाद दिया जिन्होंने उनका समर्थन किया, और अगर उन्होंने जाने-अनजाने में किसी को ठेस पहुंचाई तो दुख व्यक्त किया. बाईचुंग ने कहा, "जैसा कि हम फुटबॉल में कहते हैं, कृपया इसे खेल की भावना से लें. मैं अब आत्मनिरीक्षण करने, अपने अन्य लक्ष्यों की दिशा में काम करने और अपने उद्देश्य को नए सिरे से खोजने के लिए अधिक समय देना चाहता हूं."

ये भी पढ़ें:- 
‘रामायण के राम' ने लोकसभा में ली संस्कृत में शपथ, संसद में लगे जय श्री राम के नारे

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
खुल गया भगवान जगन्नाथ के रत्न भंडार का ताला, सामने आएगा हीरे-जवाहरात का हर एक राज
पूर्व फुटबॉलर बाइचुंग भूटिया ने राजनीति छोड़ने का किया ऐलान, बताई ये वजह
महाराष्ट्र : शरद पवार से मिले अजित गुट के दिग्गज नेता छगन भुजबल, अटकलें तेज
Next Article
महाराष्ट्र : शरद पवार से मिले अजित गुट के दिग्गज नेता छगन भुजबल, अटकलें तेज
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;