विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Jan 24, 2021

किसान दिल्ली में आएं, लेकिन गणतंत्र दिवस परेड में बाधा नहीं आने देंगे : दिल्ली पुलिस

पुलिस ट्रैक्टर रैली के मूवमेंट को सही तरीके से गाइड करेगी, यह पुलिस के लिए बड़ी चुनौती, तमाम जरूरी इंतजाम में सब लगे हैं

किसान दिल्ली में आएं, लेकिन गणतंत्र दिवस परेड में बाधा नहीं आने देंगे : दिल्ली पुलिस
प्रतीकात्मक फोटो.
नई दिल्ली:

किसान (Farmer) गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर दिल्ली (Delhi) में आ सकते हैं लेकिन गणतंत्र दिवस परेड को डिस्टर्ब नहीं होने देंगे. रैली पूरी शांतिपूर्ण होगी. ट्रैक्टर रैली को डिस्टर्ब करने के भी इनपुट  मिले हैं. किसान रैली को डिस्टर्ब करने के लिए 308 पाकिस्तान से ट्विटर हैंडल मिले हैं. दिल्ली पुलिस ने आज यह बात कही है. दिल्ली पुलिस के इंटेलिजेंस के स्पेशल सीपी दीपेंद्र पाठक ने कहा कि पुलिस ट्रैक्टर रैली के मूवमेंट को सही तरीके से गाइड करेगी. यह पुलिस के लिए बड़ी चुनौती है. तमाम जरूरी इंतजाम में सब लगे हैं. मेडिकल या कोई हादसा हो जाए तो उससे निपटने के इंतजाम हो रहे हैं. गौरतलब है कि कृषि कानूनों (Farm Laws) का विरोध कर रहे किसान 26 जनवरी को दिल्ली एनसीआर में ट्रैक्टर परेड (Tractor Parade) निकालने वाले हैं. किसानों के इस कदम को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि इसमें पुलिस खुद फैसला ले कि उसे क्या करना है.  

सीपी दीपेंद्र पाठक ने कहा कि दो महीने से किसानों का विरोध प्रदर्शन चल रहा है. किसानों की तरफ से कहा जा रहा था कि 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली निकालना चाह रहे हैं. पांच से छह बार उनसे बात की. गणतंत्र दिवस पर जिस तरह सुरक्षा होती है, उनसे कहा कि ये राष्ट्रीय गौरव का विषय है, कोई दिक्कत ना आए. उन्होंने कहा कि किसानों से अच्छा संवाद बना पाए. हमने उनसे सब बिन्दुओं पर चर्चा की, उनसे सहमत हुए. 

उन्होंने कहा कि ट्रैक्टर रैली की बात आती है तो सुरक्षा की चिंता भी बढ़ जाती है. गणतंत्र की व्यवस्था फुल प्रूफ हो. किसानों की इच्छा का आदर करते हैं. वे दिल्ली में कुछ किलोमीटर तक अंदर आएं और फिर बाहर चले जाएं. तिगड़ी बॉर्डर से 63 से 64, सिंघु बॉर्डर 62, गाजीपुर बॉर्डर से 46 किलोमीटर होगी. रैली पूरी शांतिपूर्ण होगी. ट्रैक्टर रैली को डिस्टर्ब करने के भी इनपुट  मिले हैं. किसान रैली को डिस्टर्ब करने के लिए 308 पाकिस्तान से ट्विटर हैंडल मिले हैं.

पाठक ने कहा कि ट्रैक्टर रैली को सफल कराएंगे. इसमें अलग-अलग राज्य के एरिया भी आते हैं. हरियाणा और यूपी की पुलिस के साथ बैठक हुई. रैली खास समय में होगी. रूल और निर्देश का पालन करें. नियम और क़ानून का पालन करें.  ट्रैक्टर के मूवमेंट को सही तरीके से गाइड करेंगे. यह पुलिस के लिए बड़ी चुनौती है.तमाम जरूरी इंतजाम में सब लगे हैं. मेडिकल या कोई हादसा हो जाए तो उससे निपटने के इंतजाम हो रहे हैं. 

सीपी पाठक ने कहा कि रूट को इस तरह से तय किया है कि उसमें सुरक्षा दी जा सके. ट्रैक्टर का नंबर अभी तक तय नहीं है. रैली गणतंत्र दिवस का प्रोग्राम खत्म होने के बाद शुरू होगी, करीब 11.30 बजे के बाद. किसान ट्रैक्टर रैली के बाद वापस जाएंगे. मुझे उन पर विश्वास है. जहां से आएंगे वहीं चले जाएंगे. उन्हें पूरी तरह से सुरक्षा दी जाएगी. खतरा है कि पाक के आतंकी गड़बड़ी पैदा कर सकते हैं, कुछ ग्रुप यह कर सकते हैं. हमारी सब पर नजर है. उसी के मुताबिक इंतजाम कर रहे हैं. दिल्ली के अंदर 100 किलोमीटर का रूट होगा. किसानों के साथ मिलकर फाइनल फैसला होगा.

दिल्ली में गणतंत्र दिवस समारोह पिछली बार की तरह ही होगा. समारोह सुबह 9.45 शुरू होगा और करीब 11.35 बजे तक चलेगा. तिरंगा ठीक 10 बजे फहराया जाएगा. राजपथ पर पूरी परेड करीब 90-92 मिनट तक चलेगी.

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
कांवड़ यात्रा: दिल्ली, नोएडा, गाजियबाद में नया ट्रैफिक प्लान, जानिए कौन से रास्ते बंद, कौन से डायवर्ट  
किसान दिल्ली में आएं, लेकिन गणतंत्र दिवस परेड में बाधा नहीं आने देंगे : दिल्ली पुलिस
दोस्तों संग मजाक-मजाक में गई महिला की जान, तीसरी मंजिल से गिरी, CCTV में कैद हुई घटना
Next Article
दोस्तों संग मजाक-मजाक में गई महिला की जान, तीसरी मंजिल से गिरी, CCTV में कैद हुई घटना
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;