"फोन पर मैच देख रहा था ड्राइवर" : 2023 में आंध्र प्रदेश में हुए ट्रेन हादसे पर रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव

29 अक्टूबर को शाम 7 बजे आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले के कंटाकापल्ली में हावड़ा-चेन्नई लाइन पर रायगड़ा पैसेंजर ट्रेन ने विशाखापत्तनम पलासा ट्रेन को पीछे से टक्कर मार दी थी. इस हादसे में 50 से अधिक लोग घायल भी हो गए थे.

इस हादसे में 14 लोगों की मौत हो गई थी.

नई दिल्ली:

29 अक्टूबर 2023 को दो ट्रेनों के बीच हुई टक्कर की वजह से हुई दुर्घटना का कारण बताते हुए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि एक ट्रेन का चालक और सहायक चालक अपने फोन पर क्रिकेट मैच देख रहे थे. ऐसे में लापरवाही बरतने के कारण 29 अक्टूबर 2023 को दोनों ट्रेनों के बीच टक्कर हुई थी और इस हादसे में 14 यात्रियों की मौत हो गई थी. 

29 अक्टूबर को शाम 7 बजे आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले के कंटाकापल्ली में हावड़ा-चेन्नई लाइन पर रायगड़ा पैसेंजर ट्रेन ने विशाखापत्तनम पलासा ट्रेन को पीछे से टक्कर मार दी थी. इस हादसे में 50 से अधिक लोग घायल भी हो गए थे. रेल मंत्री वैष्णव ने नए सुरक्षा उपायों के बारे में बात करते हुए शनिवार को आंध्र ट्रेन दुर्घटना का जिक्र किया, जिन पर भारतीय रेलवे काम कर रहा है.

रेल मंत्री ने कहा, "आंध्र प्रदेश में हालिया मामला इसलिए हुआ क्योंकि लोको पायलट और सह-पायलट दोनों ही क्रिकेट मैच देख रहे थे और उनका ध्यान भटक गया था. अब हम ऐसे सिस्टम स्थापित कर रहे हैं जो इस तरह के किसी भी विकर्षण का पता लगा सकते हैं और सुनिश्चित कर सकते हैं कि पायलट और सहायक पायलट दोनों का ध्यान ट्रेन चलाने पर केंद्रित है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कहा, "हम सुरक्षा पर अपना ध्यान केंद्रित करना जारी रखेंगे. हम हर घटना के मूल कारण का पता लगाने की कोशिश करते हैं और हम एक समाधान लेकर आते हैं ताकि इसकी पुनरावृत्ति न हो." हालांकि, रेलवे सुरक्षा आयुक्त (सीआरएस) द्वारा की गई जांच रिपोर्ट अभी तक सार्वजनिक नहीं की गई है, लेकिन दुर्घटना के एक दिन बाद रेलवे की प्रारंभिक जांच में रायगड़ा पैसेंजर ट्रेन के चालक और सहायक चालक को टक्कर के लिए जिम्मेदार ठहराया गया था क्योंकि उन्होंने नियमों का उल्लंघन कर दो खराब ऑटो सिग्नल पास कर दिए थे. इस दुर्घटना में चालक दल के दोनों सदस्यों की मौत हो गई थी.