विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Mar 30, 2022

SBI के नेट बैंकिंग और YONO ऐप के बहाने ठगी करने वाले 23 अरेस्‍ट, कई राज्‍यों में फैला था नेटवर्क

डीसीपी केपीएस मल्होत्रा के मुताबिक,  ऐसी कई शिकायतें मिल रहीं थीं, जिसमें यह पता चला था कि पीड़ितों को योनो ऐप पर केवाईसी अपडेट करने के बहाने ठगा गया था.

Read Time: 4 mins
SBI के नेट बैंकिंग और YONO ऐप के बहाने ठगी करने वाले 23 अरेस्‍ट, कई राज्‍यों में फैला था नेटवर्क
मामले में दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल की IFSO यूनिट ने 23 लोगों को गिरफ्तार किया है
नई दिल्‍ली:

Delhi Police's IFSO unit busts fraud gang: स्पेशल सेल की आईएफएसओ यूनिट ने फ़िशिंग पेजों और  स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के योनो ऐप (YONO app) की नकल करने के लिए बनाए गए एप्लिकेशन के माध्यम से नेट बैंकिंग लॉगिन डिटेल्स हासिल कर लोगों के साथ ठगी में शामिल धोखाधड़ी के पैन इंडिया नेटवर्क का भंडाफोड़ किया है. कुल 23 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है.डीसीपी केपीएस मल्होत्रा के मुताबिक,  ऐसी कई शिकायतें मिल रहीं थीं, जिसमें यह पता चला था कि पीड़ितों को योनो ऐप पर केवाईसी अपडेट करने के बहाने ठगा गया था.इसके बाद एसबीआई प्रबंधन से संपर्क किया गया और एक संयुक्त जांच शुरू की गई जिसमें एसबीआई से डेटा मांगा गया और इसकी विस्तृत जांच की गई. जांच के दौरान 100 से अधिक शिकायतों मिलीं जिसमें 51 शिकायतें दिल्ली से संबंधित थीं.

जांच के दौरान कथित व्यक्तियों द्वारा भेजे गए लिंक की जांच की गई तो पता चला कि ये लिंक सूरत, कोलकाता, गिरडीह, जामताड़ा, धनबाद और दिल्ली एनसीआर से भेजे जा रहे थे, भेजने वालों के ठिकानों की पहचान की गई. जांच के दौरान यह पता चला कि आरोपी अलग-अलग  मॉड्यूल बनाकर काम कर रहे थे. फ़िशिंग लिंक बनाने और होस्ट करने में शामिल एक मॉड्यूल शामिल था.दूसरा मॉड्यूल  थोक एसएमएस और कॉल करने के लिए नकली सिम कार्ड प्राप्त करने में शामिल था. इसी तरह तीसरा मॉड्यूल फ़िशिंग लिंक भेजने और पीड़ित को कॉल करने में शामिल था अगर उसने पीड़ित ने फ़िशिंग पेज पर OTP नहीं डाला तो यही मॉड्यूल कॉल करता था. चौथा मॉड्यूल पीड़ितों के नेट बैंकिंग में लॉगिन करता है और धोखाधड़ी से मिले बैंक खातों में रुपये ट्रांसफर करता है.पांचवा मॉड्यूल  नकली और धोखाधड़ी वाले बैंक खातों की खरीद में शामिल था ,छठा मॉड्यूल बैंक खातों से पैसे निकालने में शामिल था.पुलिस ने 25 मार्च को एक साथ आरोपियों को पकड़ने के लिए  सूरत, कोलकाता, गिरिडीह, जामताड़ा, धनबाद में उनके ठिकानों पर छापेमारी की.

सूरत से 12 व्यक्तियों को, कोलकाता से 6 व्यक्तियों को और गिरिडीह से 2 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया. इसी तरह जामताड़ा से 1  तथा धनबाद से 2 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया.कुल मिलाकर 23 व्यक्तियों को पकड़ा गया और उनके कब्जे से 58 मोबाइल फोन, 12 लैपटॉप, 20 डेबिट कार्ड और 202 सिम कार्ड बरामद किए गए.आरोपियों के पास से बरामद लैपटॉप,फोन आदि की फोरेंसिक जांच की जा रही है. बरामद किए गए सिम कार्डों और मोबाइल फोन की जांच से पता चला कि आरोपियों के खिलाफ 820 शिकायतें हैं. गिरफ्तार लोगों में पवन मंडल,टिंकू मंडल,छोटू कुमार मंडल,सन्दीप मंडल,रामजीत मंडल, वीरेंद्र मंडल, रामजीत मंडल, वीरेंद्र मंडल, सुशील कुमार मंडल, रवि कुमार मंडल, संजीत कुमार मंडल, राज किशोर मंडल, विकास कुमार मंडल, महेंद्र मंडल, शंकर कुमार मंडल, पप्पू कुमार मंडल, कुलदीप मंडल, प्रमोद कुमार, विनोद कुमार, नीरज शर्मा, टिंकू कुमार मंडल, तिनकू कुमार मंडल, उमेश कुमार मंडल, राजेन्द्र मंडल और संजय कुमार मंडल शामिल हैं.

- ये भी पढ़ें -

* "दिल्ली के CM केजरीवाल के आवास पर हमला, 70 हिरासत में; AAP ने BJP पर लगाए आरोप
* "कैमरे में कैद : बुर्का पहनी महिला ने सोपोर में CRPF कैम्प पर फेंका बम
* "प्रशांत किशोर की 2024 चुनावों के प्लान को लेकर गांधी परिवार से बातचीत, 10 प्वाइंट्स

लखीमपुर खीरी हिंसा : आशीष मिश्रा की बेल पर सवाल, HC के रिटायर्ड जज ने यूपी सरकार को लिखा खत

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;