मध्य प्रदेश चुनाव नतीजे पर कांग्रेस ने की समीक्षा बैठक, संगठन के पुनर्गठन का फैसला खरगे पर छोड़ा

सुरजेवाला ने कहा, 'कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को अधिकृत किया गया है कि अगली संगठन और विधायक दल की कार्यवाही के लिए वो अपना मार्गदर्शन दें.'

मध्य प्रदेश चुनाव नतीजे पर कांग्रेस ने की समीक्षा बैठक, संगठन के पुनर्गठन का फैसला खरगे पर छोड़ा

सुरजेवाला के मुताबिक, कांग्रेस अध्यक्ष से कांग्रेस नेताओं ने यह अनुरोध भी किया कि विधायक दल की बैठक के लिए जल्द पर्यवेक्षक नियुक्त किया जाए.

नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को मध्य प्रदेश के वरिष्ठ नेताओं के साथ हालिया विधानसभा चुनाव के नतीजों को लेकर समीक्षा बैठक की. इसमें प्रदेश संगठन के पुनर्गठन का फैसला खरगे पर छोड़ा गया.
पार्टी मुख्यालय में हुई इस बैठक में कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं दिग्विजय सिंह, पार्टी महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी रणदीप सुरजेवाला और कई अन्य नेता मौजूद थे.

बैठक के बाद सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, 'आज कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने मध्य प्रदेश के चुनावी नतीजे का गहराई से विश्लेषण किया. हमसे मध्य प्रदेश का मन जीतने में कहां कमियां रहीं, इसके ऊपर खुले मन से आत्ममंथन किया गया.' उन्होंने कहा, 'मैं मध्य प्रदेश की जनता से कहना चाहता हूं कि हम एक सजग पहरेदार की तरह आपकी रक्षा करेंगे. मध्य प्रदेश में अगर किसी के साथ कोई भी अन्याय हुआ, तो कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता आपके साथ खड़े रहेंगे.'

सुरजेवाला ने कहा, 'कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे को अधिकृत किया गया है कि अगली संगठन और विधायक दल की कार्यवाही के लिए वो अपना मार्गदर्शन दें. कांग्रेस अध्यक्ष पर यह निर्णय छोड़ दिया गया है कि वो मार्गदर्शन दें कि किस प्रकार से संगठन की रचना  हो, संगठन को आगे बढ़ाया जाए.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

सुरजेवाला के मुताबिक, कांग्रेस अध्यक्ष से कांग्रेस नेताओं ने यह अनुरोध भी किया कि विधायक दल की बैठक के लिए जल्द पर्यवेक्षक नियुक्त किया जाए, ताकि विधायकों की राय लेकर  विपक्ष का अगला नेता तय हो सके. मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने 230 सदस्यीय सदन में 163 सीट जीतकर अपनी सत्ता बरकरार रखी है. कांग्रेस सिर्फ 66 सीट ही जीत सकी.