"मनगढ़ंत कहानी": पीएम मोदी की ओर से दान को लेकर प्रियंका गांधी के दावे पर भड़के मंदिर के पुजारी

चुनाव आयोग ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को उनकी टिप्पणी पर कारण बताओ नोटिस जारी किया

पुजारी ने कहा है कि पीएम मोदी द्वारा दानपेटी में डाले गए लिफाफे के बारे में उन्होंने कोई वक्तव्य नहीं दिया.

जयपुर:

राजस्थान के भीलवाड़ा (Bhilwara) के देवनारायण मंदिर के पुजारी ने शुक्रवार को कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) पर पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) द्वारा मंदिर को किए गए दान को लेकर मनगढ़ंत कहानी बनाने का आरोप लगाया. प्रियंका के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी की ओर से मंदिर को दान में दिए गए एक लिफाफे में केवल 21 रुपये थे. पुजारी ने प्रियंका पर कहानी गढ़ने का आरोप लगाया और इस बारे में कोई भी बयान देने से इनकार किया.

चुनाव आयोग ने गुरुवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को पीएम मोदी के मंदिर दौरे को लेकर उनकी "लिफाफा" संबंधी टिप्पणी पर कारण बताओ नोटिस जारी किया. यह कार्रवाई बीजेपी द्वारा उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के एक दिन बाद हुई.

भीलवाड़ा के श्री देवनारायण मंदिर के पुजारी ने एक बयान में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा मंदिर की दानपेटी में डाले गए उस लिफाफे के बारे में उन्होंने कोई वक्तव्य नहीं दिया था जिसमें कथित तौर पर 21 रुपये निकले थे. मंदिर के पुजारी हेमराज पोसवाल ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी द्वारा लिफाफे डाले जाने के बारे में कोई वक्‍तव्‍य नहीं दिया.

प्रियंका गांधी को कारण बताओ नोटिस

चुनाव आयोग ने पीएम मोदी की मंदिर दर्शन यात्रा से संबंधित “लिफाफा” टिप्पणी को लेकर गुरुवार को प्रियंका गांधी को कारण बताओ नोटिस भेजा है. मोदी इस साल जनवरी में इस मंदिर में आए थे.

पिछले महीने मीडिया के एक वर्ग ने खबर दी थी कि जब मंदिर के पुजारी ने दानपेटी खोली तो उसमें एक सफेद लिफाफा निकला जिसमें 21 रुपये थे. इसमें दावा किया गया था कि यह लिफाफा प्रधानमंत्री ने अपनी मंदिर यात्रा के दौरान डाला था.

प्रियंका गांधी ने हाल ही में दौसा और झुंझुनू में अपनी जनसभाओं में खबरों का हवाला देते हुए पीएम मोदी पर तंज कसा था.

लिफाफा की खबर से भ्रम फैलाने का आरोप

पुजारी पोसवाल के बयान के अनुसार,‘‘रंजिशवश स्थानीय नेताओं ने खबर प्लांट करवाकर सनातन धर्म, मंदिर एवं लोकप्रिय नेता मोदी जी की छवि को धूमिल करने के लिए एक ही लिफाफा की खबर प्रसारित कर भ्रम फैलाया गया.''

उन्होंने कहा, “हाल ही में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने दौसा एवं झुंझुनूं में काल्पनिक मनगंढ़ंत कहानी बनाकर लिफाफा का जिक्र किया. जिससे भगवान विष्णु के अवतार देवनारायण भगवान को मानने वाले एवं सनातन धर्म को मानने वाले लोगों की भावना को ठेस पहुंची.”

पुजारी ने प्रियंका गांधी से प्रश्न किया, ‘‘देश भर में भगवान श्री देवनारायण के हजारों मंदिर हैं. कभी प्रियंका जी आपने या आपके गांधी खानदान के किसी व्यक्ति ने देवनारायण भगवान के मंदिर में आकर दर्शन किए और आस्था प्रकट की क्या?''

पुजारी ने की वसुंधरा राजे की तारीफ

पुजारी ने पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की तारीफ करते हुए कहा कि उनके कार्यकाल में 4.25 करोड़ रुपये खर्च कर भगवान श्री देवनारायण का ‘पैनोरमा' बनवाया गया था. पोसवाल के अनुसार राजनीतिक स्वार्थ के लिए धार्मिक आस्था को चोट नहीं पहुंचाई जानी चाहिए.

भीलवाड़ा के मालासेरी डूंगरी में श्री देवनारायण भगवान का मंदिर स्थित है. यह खास तौर पर गुर्जर समुदाय की आस्था का केंद्र है.

यह भी पढ़ें -

भाजपा की राजस्थान इकाई ने प्रियंका गांधी वाड्रा के खिलाफ चुनाव आयुक्त से की शिकायत

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

चुनाव आयोग ने प्रियंका गांधी और असम के CM हिमंत बिस्वा सरमा को जारी किया नोटिस