"AAP का दिल्ली मॉडल देश को दिखा रहा दिशा" - विधानसभा में बोले सीएम अरविंद केजरीवाल

CM केजरीवाल ने विधानसभा में कहा कि आज अपने छोटे भाई मनीष सिसोदिया को याद करना चाहूंगा. ठीक एक साल पहले झूठे केस में उन्हें गिरफ्तार किया गया था. आज हम उनका दुख नहीं मनाएंगे, हमें गर्व है, उनसे प्रेरणा लेंगे. उन्होंने गरीबों के बच्चों के सपनों को पंख देने का काम किया है.

विधानसभा में सीएम अरविंद केजरीवाल

सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने विधानसभा में दिल्ली मॉडल की तारीफ करते हुए कहा कि 75 साल में सभी सरकारों ने जो काम नहीं किया, वो आज हो रहा है. आज दिल्ली मॉडल की चर्चा पूरे देश में है. बिहार के गांव गांव में कहते हैं कि स्कूल तो दिल्ली वाले चाहिए. पानी को लेकर बहुत काम करना बाकी है, लेकिन बिजली और स्कूल पर बहुत काम हुए. सशक्त राष्ट्र की बुनियाद रखने के लिए जो बहुत ज़रूरी हैं वो काम आज हो रहे हैं. आज AAP का दिल्ली मॉडल पूरे देश को दिशा दिखा रहा है. आज तीन सेक्टरों ज़िक्र करूंगा. शिक्षा स्वास्थ्य और बिजली.

दिल्ली ही नहीं पूरे देश में दे सकते हैं अच्छी शिक्षा

शिक्षा में हमने जितना इन्वेस्टमेंट किया, चार पांच लाख बच्चे प्राइवेट से सरकारी में भर्ती हुए. आज ग़रीबों के बच्चों को हमने इतनी अच्छी शिक्षा दे दी तो पूरे देश में भी दे सकते हैं. हर राज्य में सरकारी स्कूल बंद किए जा रहे हैं. आपके बच्चों पर दबाव है कि प्राइवेट में भेजो.  ऐसे में दिल्ली एक उदाहरण है. स्वास्थ्य की बात करें तो हमने  अस्पताल खोले, मोहल्ला क्लीनिक खोले.  बिजली हम 24 घंटे देते हैं. दिल्ली में भी और पंजाब में भी जबकि वहां सरकार बने दो साल ही हुए.

देश को सरकारी स्कूलों को प्राइवेटाइजेशन की तरफ धकेला जा रहा

हमने दिल्ली की बिजली, पानी, अस्पताल, स्वास्थ्य, सैनिटेशन जैसे हर विभाग में काम किया. उन्होंने आरोप लगाया कि जहां दिल्ली के अंदर गरीबों को अच्छी शिक्षा दी जा रही वहीं गुजरात में 6000 तो असम में 4500 सरकारी स्कूल बंद किये गये. दिल्ली में जगह जगह सरकारी स्कूलों में सारी सुविधाएं, स्मार्ट क्लास से लेकर स्विमिंग पूल तक, लेकिन बाकी पूरे देश में स्कूलों को प्राइवेटाइजेशन की तरफ धकेला जा रहा है.

गरीबी हटाने का रामबाण इलाज 

उन्होंने आगे कहा कि देश में 10 लाख सरकारी स्कूल है जिसमें 17 करोड़ बच्चे पढ़ते है, कुल 5 लाख करोड़ रुपए में देश की शिक्षा सुधारी जा सकती है. हर पार्टी भाषण देने तो आती है कि गरीबी हटाओ गरीबी हटाओ, लेकिन गरीबी दूर करने की इच्छा किसी पार्टी की नहीं. आज इस सदन से कह रहा हूं कि शिक्षा व्यवस्था सिर्फ 5 लाख करोड़ रुपये में सुधारी जा सकती है , यही है देश से गरीबी हटाने का रामबाण इलाज है.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने किया मनीष सिसोदिया को याद

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

वहीं आज विधानसभा में अरविंद केजरीवाल ने मनीष सिसोदिया को भी याद किया. उन्होंने कहा कि मैं आज अपने छोटे भाई मनीष सिसोदिया को याद करना चाहूंगा. ठीक एक साल पहले झूठे केस में उन्हें गिरफ्तार किया गया था. आज हम उनका दुख नहीं मनाएंगे, हमें गर्व है, उनसे प्रेरणा लेंगे. उन्होंने गरीबों के बच्चों के सपनों को पंख देने का काम किया है. जो भी लोग व्यवस्था को नकारते हैं उनके साथ ऐसा व्यवहार होता है. सभी विधायकों से अपील है कि खड़े होकर उन्हें सेल्यूट करें.