विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From May 26, 2023

केंद्र सरकार नए संसद भवन के उद्घाटन के अवसर पर ₹75 का सिक्का करेगी जारी

इस सिक्के 75 रुपये के सिक्के का वजन 35 ग्राम होगा और इसमें 50 फीसदी चांदी, 40 फीसदी कॉपर, और 5-5 फीसदी निकल और जिंक धातु का मिश्रण होगा. इतना ही नहीं संसद की तस्वीर के ठीक नीचे वर्ष 2023 भी लिखा होगा.

Read Time: 16 mins
केंद्र सरकार नए संसद भवन के उद्घाटन के अवसर पर ₹75 का सिक्का करेगी जारी
सिक्के के एक तरफ अशोक स्तंभ का सिंह शीर्ष होगा, जिसके नीचे "सत्यमेव जयते" लिखा होगा
नई दिल्‍ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 28 मई को नए संसद भवन का उद्घाटन करेंगे. इस दौरान 75 रुपये का सिक्का लॉन्च किया जाएगा. वित्त मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि नए संसद भवन के उद्घाटन के उपलक्ष्य में 75 रुपये का एक विशेष सिक्का लॉन्च किया जाएगा. सिक्के के एक तरफ अशोक स्तंभ का सिंह शीर्ष होगा, जिसके नीचे "सत्यमेव जयते" लिखा होगा. बाईं ओर देवनागरी लिपि में "भारत" और दाईं ओर अंग्रेजी में "इंडिया" शब्द लिखा होगा. 

Advertisement

सिक्के में रुपये का चिन्ह भी होगा और लायन कैपिटल के नीचे अंतरराष्ट्रीय अंकों में 75 का मूल्यवर्ग लिखा होगा. सिक्के का दूसरा पहलू संसद परिसर की तस्वीर दिखाएगा. ऊपरी परिधि पर देवनागरी लिपि में 'संसद संकुल' और निचली परिधि पर अंग्रेजी में 'पार्लियामेंट कॉम्प्लेक्स' शब्द लिखे जाएंगे.

मिली जानकारी के मुताबिक, इस सिक्के 75 रुपये के सिक्के का वजन 35 ग्राम होगा और इसमें 50 फीसदी चांदी, 40 फीसदी कॉपर, और 5-5 फीसदी निकल और जिंक धातु का मिश्रण होगा. इतना ही नहीं संसद की तस्वीर के ठीक नीचे वर्ष 2023 भी लिखा होगा. यह सिक्का भारत सरकार की कोलकाता टकसाल द्वारा बनाया गया है और इसे पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा नए संसद भवन के उद्घाटन समारोह के दौरान लॉन्च किया जाएगा.

Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा रविवार को नये संसद भवन के उद्घाटन समारोह में करीब 25 राजनीतिक दलों के शामिल होने की संभावना है, वहीं करीब 21 दलों ने समारोह के बहिष्कार का फैसला किया है. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) समेत सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के 18 घटक दलों के साथ ही सात गैर-राजग दल समारोह में शामिल होंगे. बहुजन समाज पार्टी, शिरोमणि अकाली दल, जनता दल (सेक्यूलर), लोक जनशक्ति पार्टी (राम विलास), वाईएसआर कांग्रेस, बीजू जनता दल और तेलुगू देशम पार्टी समारोह में शामिल होने वाले सात गैर-राजग दल हैं. इन सात दलों के लोकसभा में 50 सदस्य हैं और इनका यह रुख भाजपा नीत राजग के लिए बड़ी राहत वाला होगा। इन दलों के भाग लेने से राजग को विपक्ष के इन आरोपों का खंडन करने में मदद मिलेगी कि यह एक सरकारी आयोजन है.

Advertisement

भाजपा के अलावा शिवसेना, नेशनल पीपुल्स पार्टी, नेशनल डेमोक्रेटिक प्रोग्रेसिव पार्टी, सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा, जननायक जनता पार्टी, अन्नाद्रमुक, आईएमकेएमके, आजसू, आरपीआई, मिजो नेशनल फ्रंट, तमिल मनीला कांग्रेस, आईटीएफटी (त्रिपुरा), बोडो पीपुल्स पार्टी, पीएमके, एमजीपी, अपना दल और एजीपी के नेता समारोह में शामिल होंगे. कांग्रेस, माकपा, भाकपा, तृणमूल कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी समेत 21 दलों ने नये संसद भवन के उद्घाटन का बहिष्कार करने का फैसला किया है.

Advertisement

ये भी पढ़ें :-

NDTV.in पर ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें, व देश के कोने-कोने से और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं

फॉलो करे:
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
क्या पाकिस्तान ने भारत के सामने टेक दिए घुटने? समझिए नवाज शरीफ के कबूलनामे के मायने
केंद्र सरकार नए संसद भवन के उद्घाटन के अवसर पर ₹75 का सिक्का करेगी जारी
आ रहा है रेमल... समंदर में उठ रहे बवंडर का खौफ, देखिए बंगाल में चेन से बांध दी गईं ट्रेनें
Next Article
आ रहा है रेमल... समंदर में उठ रहे बवंडर का खौफ, देखिए बंगाल में चेन से बांध दी गईं ट्रेनें
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
;