"बीजेपी उम्मीदवार रेप के मामले में हैं आरोपी", छत्तीसगढ़ में भानुप्रतापपुर उपचुनाव को लेकर कांग्रेस का दावा

मरकाम ने आरोप लगाया कि 15 मई 2019 को झारखंड पुलिस ने जमशेदपुर के टेल्को पुलिस थाने में मामला दर्ज किया था, जिसमें आरोप लगाया गया था कि 15 वर्षीय एक किशोरी को कथित तौर पर देह व्यापार में धकेला गया और कई लोगों ने उसके साथ बलात्कार किया.

रायपुर:

कांग्रेस ने रविवार को दावा किया कि भानुप्रतापपुर सीट पर पांच दिसंबर को होने वाले उपचुनाव के लिए बीजेपी के उम्मीदवार ब्रह्मानंद नेताम पड़ोसी राज्य झारखंड में बलात्कार के एक मामले में आरोपी हैं और उन्होंने अपने चुनावी हलफनामे में इसका विवरण नहीं दिया है. नेताम ने आरोपों का खंडन किया और इसे उनकी छवि खराब करने के लिए कांग्रेस की 'साजिश' करार दिया है. यहां भानुप्रतापपुर नगर में एक संवाददाता सम्मेलन में प्रदेश कांग्रेस प्रमुख मोहन मरकाम ने कहा कि उनकी पार्टी शिकायत करेगी और उपचुनाव के वास्ते नेताम के नामांकन पत्र में कथित रूप से गलत विवरण प्रस्तुत करने के लिए उनकी उम्मीदवारी रद्द करने की मांग निर्वाचन आयोग से करेगी.

मरकाम ने आरोप लगाया कि 15 मई 2019 को झारखंड पुलिस ने जमशेदपुर के टेल्को पुलिस थाने में मामला दर्ज किया था, जिसमें आरोप लगाया गया था कि 15 वर्षीय एक किशोरी को कथित तौर पर देह व्यापार में धकेला गया और कई लोगों ने उसके साथ बलात्कार किया. उन्होंने दावा किया कि भारतीय दंड संहिता की धारा 366 ए, 376, 376 (3), 376 एबी, 129 बी, यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पोक्सो) अधिनियम और देह व्यापार (रोकथाम) अधिनियम की धारा 4 और 6 के तहत मामला दर्ज किया गया था. उन्होंने कहा कि शुरू में इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था और जांच के दौरान कांकेर जिले के चरमा कस्बे के रहने वाले पूर्व भाजपा विधायक ब्रह्मानंद नेताम और चार अन्य को भी आरोपी बनाया गया.

उन्होंने दावा किया कि मामले के आरोपपत्र में भी नेताम का नाम आरोपी के तौर पर है, लेकिन उन्होंने भानुप्रतापपुर उपचुनाव के लिए नामांकन पत्र के तहत दायर अपने चुनावी हलफनामे में विवरण छुपाया. उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें उम्मीदवार बनाकर भाजपा परोक्ष तौर पर यह संदेश देने की कोशिश कर रही है कि ऐसे अपराधियों को संरक्षण देने में वह सबसे आगे है. अगर भाजपा में नैतिकता बची है तो उसे नेताम से अपना पार्टी चिह्न वापस ले लेना चाहिए. अगर वह ऐसा नहीं करती है तो इसके लिए भानुप्रतापपुर के लोग उसे सबक सिखाएंगे.''

मरकाम ने कहा, ‘‘कांग्रेस छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनके झारखंड समकक्ष हेमंत सोरेन को शिकायत करके नेताम की गिरफ्तारी की मांग करेगी. वह छत्तीसगढ़ के निर्वाचन अधिकारी और मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय से भी शिकायत करेगी और चुनावी हलफनामे में कथित तौर पर गलत जानकारी देने के लिए नेताम की उम्मीदवारी रद्द करने की मांग करेगी.''

आरोपों को खारिज करते हुए नेताम ने संवाददाताओं से कहा कि उनके खिलाफ ऐसा कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है. नेताम ने दावा किया, ‘‘उपचुनाव में हार के डर से कांग्रेस मेरी छवि खराब करने की साजिश के तहत इस तरह के आरोप लगा रही है. मेरे खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं है. अगर ऐसा होता तो मैंने अपने चुनावी हलफनामे में इसका जिक्र किया होता.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये भी पढ़ें-

Featured Video Of The Day

उद्धव ठाकरे ने कहा- "SC के फैसले के बाद ही चुनाव चिन्ह पर फैसला करे आयोग"