बिहार में संकटमोचक बनकर पहुंचे धर्मेंद्र प्रधान, बोले- नीतीश हमारे नेता, कोई गतिरोध नहीं

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि कोई गतिरोध है ही नहीं. सार्वजनिक मंच पर कई बार इस बात का प्रमाण दे चुके हैं, हालांकि राजनीतिक पार्टियों में प्रजातांत्रिक तरीकों में कुछ मतभेद हो जाता है, लेकिन वो कोई बड़ी बात नहीं. हम सब मिलकर बिहार की जनता की सेवा कर रहे हैं. नीतीश जी हमारे नेता हैं, कोई गतिरोध है ही नहीं. 

बिहार में संकटमोचक बनकर पहुंचे धर्मेंद्र प्रधान, बोले- नीतीश हमारे नेता, कोई गतिरोध नहीं

नीतीश कुमार से मिले धर्मेंद्र प्रधान

नई दिल्ली:

बिहार (Bihar) के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) जो लगातार सरकार से लेकर विधानसभा तक सहयोगी भाजपा के हमले झेल रहे हैं, उनके भविष्य को लेकर और अब गठबंधन के संकटमोचक की भूमिका अदा कर रहे केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि नीतीश कुमार 2025 तक मुख्यमंत्री बने रहेंगे. गठबंधन में उनके अनुसार कोई गतिरोध नहीं, कुछ विषय पर मतभेद होता रहता है. प्रधान ने मंगलवार शाम पटना में नीतीश कुमार से मुलाकात के बाद पार्टी दफ्तर में पत्रकारों से बातचीत में ये बातें कहीं.

धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि कोई गतिरोध है ही नहीं. सार्वजनिक मंच पर कई बार इस बात का प्रमाण दे चुके हैं, हालांकि राजनीतिक पार्टियों में प्रजातांत्रिक तरीकों में कुछ मतभेद हो जाता है, लेकिन वो कोई बड़ी बात नहीं. हम सब मिलकर बिहार की जनता की सेवा कर रहे हैं. नीतीश जी हमारे नेता हैं, कोई गतिरोध है ही नहीं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पटना आने के सवाल पर धर्मेंद्र प्रधान ने कहा कि मैं पटना आया और माननीय मुख्यमंत्री से मिलने का मौका मिला. साथ ही पार्टी के तमाम नेताओं से मिला.पीएम मोदी के नेतृत्व में द्रौपदी मुर्मू को एनडीए की ओर से उम्मीदवार बनाया गया है. पहली बार है किसी आदिवासी समुदाय की महिला को राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार बनाया गया है. आने वाले समय में चुनाव होगा. बिहार में भी एनडीए की उम्मीदवार को पूरा समर्थन की चर्चा की. बिहार एकजुट होकर द्रौपदी मुर्मू को वोट देंगे, ये हमारा पूरा विश्वास है. नीतीश जी हमारे नेता हैं और उनके नेतृ्त्व में हम बिहार की सेवा कर रहे हैं.