राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा से पहले तैयार हो जाएगा अयोध्या एयरपोर्ट

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, केंद्रीय मंत्री जनरल वी के सिंह और अपर मुख्य सचिव एस पी गोयल ने भी रामलला एवं हनुमानगढ़ी में दर्शन पूजन किया.

खास बातें

  • 15 दिसंबर तक तैयार हो जाएगा अयोध्या एयरपोर्ट
  • मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के नाम से जाना जाएगा
  • अगले साल 22 जनवरी को राम मंदिर का उद्घाटन किया जाएगा
अयोध्या:

अयोध्या में बन रहे अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पहले चरण का काम 15 दिसंबर तक हो जाएगा. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को इसकी घोषणा की. योगी आदित्यनाथ ने कहा, इस हवाई अड्डे को मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे के नाम से जाना जाएगा. राज्य सरकार ने परियोजना के लिए 821 एकड़ जमीन उपलब्ध कराई है और भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण की देखरेख में तेजी से काम किया जा रहा है. उन्होंने कहा, यह अयोध्या के विकास को सुनिश्चित करने के साथ-साथ शहर के निवासियों को आवश्यक बुनियादी ढांचा प्रदान करने की उनकी सरकार की प्रतिबद्धता का हिस्सा है.

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री वीके सिंह के साथ योगी आदित्यनाथ ने हवाई अड्डा का दौरा किया. केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस दौरान कहा कि पहले चरण में 65,000 वर्ग फुट का एक टर्मिनल निर्माणाधीन है, जिसकी क्षमता प्रति घंटे 2-3 उड़ानों को संभालने की है. बोइंग 737, एयरबस 319 और एयरबस 320 जैसे विमानों की लैंडिंग की सुविधा के लिए 2,200 मीटर के रनवे पर भी काम चल रहा है. दूसरे चरण में रनवे की लंबाई 3,700 मीटर तक बढ़ा दी जाएगी, जिससे बोइंग 787 ड्रीमलाइनर और बोइंग 777 जैसे बड़े आकार के विमान सीधे अयोध्या में उतर सकेंगे। टर्मिनल का क्षेत्रफल 5 लाख वर्ग फीट होगा.

बता दें अगले साल 22 जनवरी को राम मंदिर का उद्घाटन किया जाएगा, इस कार्यक्रम में पीएम मोदी भी शामिल होंगे.

श्रीराम लला के दर्शन किए

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या पहुंचकर श्रीराम लला के दर्शन-पूजन कर देश और प्रदेशवासियों के कल्याण व सुख-समृद्धि की कामना भी की. एक बयान में कहा गया है कि राम कथा पार्क हेलीपैड से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सीधे हनुमानगढ़ी पहुंचे, वहां पहुंचकर उन्होंने हनुमान जी की आरती उतारी और दर्शन पूजन किया तथा उसके बाद श्रीराम लला के दर्शन-पूजन कर देश और प्रदेशवासियों के कल्याण व सुख-समृद्धि की कामना की.

बयान के मुताबिक रामलला के दर्शन के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राम मंदिर निर्माण की प्रगति का हाल जाना, यहां श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्यों ने मुख्यमंत्री को मंदिर निर्माण से जुड़ी जानकारी दी. इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने निर्माणाधीन राम मंदिर का निरीक्षण भी किया.

मुख्यमंत्री के साथ केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, केंद्रीय मंत्री जनरल वी के सिंह और अपर मुख्य सचिव एस पी गोयल ने भी रामलला एवं हनुमानगढ़ी में दर्शन पूजन किया. (भाषा इनपुट के साथ)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ये भी पढ़ें- "मैंने किसी को आंदोलन करने को नहीं कहा" : शरद पवार ने भतीजे अजित पवार के आरोपों को किया खारिज