बंगाल में हिंसा के बाद अधिकारियों पर गिरी गाज, हावड़ा जाते समय बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष गिरफ्तार

भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया जब वह हिंसा से प्रभावित हावड़ा जाने का प्रयास कर रहे थे.

बंगाल में हिंसा के बाद अधिकारियों पर गिरी गाज, हावड़ा जाते समय बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष गिरफ्तार

शुक्रवार को हावड़ा के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा भड़क गयी थी

कोलकाता:

शुक्रवार को बंगाल के हावड़ा में हुई हिंसा के बाद अब बंगाल सरकार की तरफ से कई कदम उठाए गए हैं. जानकारी के अनुसार शनिवार को जिला पुलिस के अधिकारियों का तबादला कर दिया गया है. एक आदेश में कहा गया है कि राज्य सरकार ने कोलकाता पुलिस के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त प्रवीण त्रिपाठी को हावड़ा शहर का नया पुलिस आयुक्त बनाया है. कोलकाता पुलिस की डीसीपी (दक्षिण पश्चिम) स्वाति भंगालिया को हावड़ा (ग्रामीण) का नया पुलिस अधीक्षक बनाया गया है. 

इधर भारतीय जनता पार्टी की पश्चिम बंगाल इकाई के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया जब वह हिंसा से प्रभावित हावड़ा जाने का प्रयास कर रहे थे. पुलिस ने कहा कि उत्तर दिनाजपुर के बालुरघाट से सांसद मजूमदार को विद्यासागर सेतु पर स्थित एक टोल प्लाजा के पास से गिरफ्तार किया गया. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘हावड़ा में सीआरपीसी की धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू है जहां मजूमदार प्रवेश करने का प्रयास कर रहे थे. उनके दौरे से कानून व्यवस्था बिगड़ने की स्थिति पैदा हो सकती थी. एहतियात के तौर पर उन्हें गिरफ्तार किया गया.''

वहीं शनिवार को हावड़ा में हिंसा के बाद भ्रामक सूचना के प्रसार को रोकने के लिए मुर्शिदाबाद जिले के कुछ हिस्सों में इंटरनेट सेवाओं को 14 जून तक के लिए निलंबित कर दिया है, जहां पहले से ही इस तरह की पाबंदी लागू है. एक आदेश में कहा गया है कि बेलडांगा पुलिस थाना क्षेत्र के बेलडांगा 1 ब्लॉक और रेजीनगर और शक्तिपुर पुलिस थाना क्षेत्रों को कवर करने वाले बेलडांगा 2 ब्लॉक में इंटरनेट सेवाएं 14 जून को सुबह छह बजे तक निलंबित कर दी गई हैं. पूरे हावड़ा जिले में 13 जून तक इंटरनेट सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है और 15 जून तक उलुबेरिया, डोमजूर और पंचला जैसे कई क्षेत्रों में दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 लागू कर दी गई है.

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा और निष्कासित नेता नवीन जिंदल द्वारा पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को हावड़ा जिले के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन के बाद प्रतिबंध लगाए गए थे. हावड़ा में हिंसक विरोध प्रदर्शन और पुलिस के साथ संघर्ष के दौरान प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया, पुलिस वाहनों में आग लगा दी और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया.

ये भी पढ़ें- 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video : पैगंबर विवाद मामले में मारे गए युवक के भाई ने कहा, 'मेरे भाई का कोई दुश्मन नहीं था'