वाराणसी: कांग्रेस के विरोध के बाद प्रशासन ने जिला कार्यालय को गुलाबी से सफेद कराया 

उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिला कांग्रेस कार्यालय की दीवारों को गुलाबी रंग में रंगवाने और पार्टी नेताओं के भारी विरोध के बीच वाराणसी विकास प्राधिकरण को दोबारा उसे सफेद करने पर मजबूर होना पड़ा है .

वाराणसी: कांग्रेस के विरोध के बाद प्रशासन ने जिला कार्यालय को गुलाबी से सफेद कराया 

कांग्रेस के भारी विरोध के कारण 24 घण्टे के अंदर कार्यालय की दीवारों को दोबारा सफेद कर दिया गया.

वाराणसी:

कांग्रेस पार्टी (Congress) ने गुरुवार को विकास प्राधिकरण द्वारा वाराणसी (Varanasi) के मैदागिन चौराहे के बगल में स्थित पार्टी कार्यालय को गुलाबी रंग में रंगने का विरोध किया. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (UPCC) के उपाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह ने जिला विकास प्राधिकरण को पत्र लिखकर मैदागिन चौराहे के बगल में स्थित कांग्रेस कार्यालय को बिना सहमति के गुलाबी रंग में रंगने का कड़ा विरोध जताया है. उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिला कांग्रेस कार्यालय की दीवारों को गुलाबी रंग में रंगवाने और पार्टी नेताओं के भारी विरोध के बीच वाराणसी विकास प्राधिकरण को दोबारा उसे सफेद करने पर मजबूर होना पड़ा है . कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने इसकी जानकारी दी .

वाराणसी : प्रशासन ने कांग्रेस कार्यालय को कराया गुलाबी, पार्टी हुई 'लाल'

कांग्रेस के पूर्व विधायक अजय राय ने बताया कि जिला कांग्रेस कार्यालय को गुलाबी रंग से रंगे जाने का कांग्रेस पार्टी द्वारा विरोध किये जाने के बाद वाराणसी विकास प्राधिकरण को बैक फुट पर आना पड़ा. उन्होंने बताया कि प्राधिकरण ने कांग्रेस कार्यालय को 24 घण्टे के अंदर ही दुबारा गुलाबी से सफेद करा रही है.
राय ने कहा कि मैदागिन से गोदौलिया क्षेत्र के मकानों को गुलाबी रंग से रंगा जाना असंवैधानिक है. उन्होंने कहा कि मैदागिन स्थित कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन को बिना पार्टी की अनुमति के गुलाबी रंग में रंग कर बैनर पोस्टर और बोर्ड को हटा दिया गया.

वाराणसी : पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र भी बनेगा विश्वनाथ कॉरिडोर

राय ने आरोप लगाया कि यह सरकार सत्ता के नशे में चूर है और इसलिये ऐसा कर रही हे.कांग्रेस नेता ने बताया कि पार्टी ने प्रशासन को 36 घण्टे का वक्त दिया था और कहा था कि यदि सरकार कांग्रेस कार्यालय को उसके पूर्व रंग में नहीं करती है तो हम सब आंदोलन के लिए बाध्य होंगे . उन्होंने कहा कि कांग्रेस के भारी विरोध के कारण 24 घण्टे के अंदर ही इसे दोबारा सफेद किया जा रहा है. राय ने कहा कि यह सरकार आस्था के नाम पर झूठी मार्केटिंग कर रही है, पहले मंदिर को तोड़ कर सनातनी परंपरा के साथ खिलवाड़ किया गया और अब रंग रोगन, मार्केटिंग और झूठ के प्रचार के जरिये भाजपा सरकार अपनी कुनीतियों और गलत कार्यों को छुपाना चाहती है.


वाराणसी : भगवा रंग में रंग दी मस्जिद, विरोध होने पर प्रशासन ने मानी गलती

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)