भारत को 200 वेंटिलेटर दान करने को तैयार अमेरिकी सरकार, जल्द आएगी पहली खेप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले सप्ताह ऐलान किया था कि अमेरिका कोविड-19 रोगियों के इलाज और इस 'अदृश्य शत्रु' के खिलाफ लड़ाई में मदद के लिए भारत को वेंटिलेटर दान करेगा. 

भारत को 200 वेंटिलेटर दान करने को तैयार अमेरिकी सरकार, जल्द आएगी पहली खेप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

खास बातें

  • अमेरिका सरकार भारत को 200 वेंटिलेटर 'दान' करने की योजना बना रही है
  • 50 वेंटिलेटरों की पहली खेप जल्द ही आने वाली है
  • एक अमेरिकी अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी
नई दिल्ली:

अमेरिका सरकार भारत को 200 वेंटिलेटर 'दान' करने की योजना बना रही है, जिसके तहत 50 वेंटिलेटरों की पहली खेप जल्द ही आने वाली है. एक अमेरिकी अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी है. अमेरिका की इस पहल का मकसद कोविड-19 के खिलाफ द्विपक्षीय सहयोग को मजबूती देना है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पिछले सप्ताह ऐलान किया था कि अमेरिका कोविड-19 रोगियों के इलाज और इस 'अदृश्य शत्रु' के खिलाफ लड़ाई में मदद के लिए भारत को वेंटिलेटर दान करेगा. 


यूएस एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डवलपमेंट (यूएसएआईडी) की कार्यवाहक निदेशक रमोना अल हमजवी से मीडिया के साथ टेली ब्रीफिंग के दौरान जब पूछा गया कि क्या भारत को इन वेंटिलेटरों की कीमत चुकानी होगी तो उन्होंने कहा कि यह 'दान' है. उन्होंने कहा, 'अमेरिकी सरकार भारत को 200 वेंटिलेटर दान करने की योजना बना रही है. 50 वेंटिलेटरों की पहली खेप जल्द ही पहुंच जाएगी.' 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हमजवी ने कहा, 'हम स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी और भारत और अमेरिका के अन्य संबंधित हितधारकों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं, जो दान किए गए इन वेंटिलेटर की डिलीवरी, परिवहन और प्लेसमेंट की प्रक्रिया से जुड़े हुए हैं.' उन्होंने कहा कि ये वेंटिलेटर भारत में चल रहे प्रयासों को मजबूती देने के लिये उपलब्ध कराए जाएंगे.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)