लॉकडाउन फिर से लागू न हो इसके लिए सरकार के साथ सहयोग जारी रखें, उद्धव ठाकरे ने की अपील

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने जनता से संवाद करते हुए कहा कि कोविड-19 से युद्ध के दौरान हमारे सामने निसर्ग चक्रवात तूफान जैसी चुनौती सामने आ गई.

लॉकडाउन फिर से लागू न हो इसके लिए सरकार के साथ सहयोग जारी रखें, उद्धव ठाकरे ने की अपील

उद्धव ठाकरे ने महाराष्ट्र के लोगों से कहा चिंता की कोई बात नहीं

मुंबई:

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackrey) ने रविवार को कहा कि कोरोनावायरस से लड़ने में वैसे तो कामयाबी मिल रही है लेकिन अभी तक संकट खत्म नहीं हुआ है. उन्होंने लोगों से नियमों का पालन करने और दोबारा लॉकडाउन न करना पड़े, यह सुनिश्च‍ित करने की अपील की. ठाकरे ने जनता से संवाद करते हुए कहा कि कोविड-19 से युद्ध के दौरान हमारे सामने निसर्ग चक्रवात तूफान जैसी चुनौती सामने आ गई. उन्होंने कहा कि अभी हमारी टीम रायगढ़ का दौरा करके वापस लौटी है और हम कह सकते हैं कि जो काम हुआ है वो संतोषजनक है. उन्होंने कहा कि सरकार जनता के साथ है. उद्धव ठाकरे ने राज्य के डॉक्टरों को डॉक्टर दिवस की बधाई देते हुए कहा कि परसो डॉक्टर दिवस है और आपको अभी से इसकी बधाई दी जाती है. आप जो लड़ाई लड़ रहे हैं हम उसके आभारी हैं. उद्धव ठाकरे ने साफ किया कि हम धीरे-धीरे सुविधाओं को खोलने की कोशिश कर रहे हैं फिलहाल लॉकडाउन खत्म नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि हम इसे धीरे-धीरे इसलिए कर रहे हैं क्यों कि अब भी संकट मौजूद है और केवल अर्थचक्र को शुरू करने के लिए  यह कर रहे हैं पर आप सभी को नियमों का पालन करना है. कुछ जगहों पर मुंबई में लोकल को शुरू किया गया है, ग्रामीण में लोगों के आने जाने का काम शुरू किया गया है. किसान दिन रात लगातार मेहनत कर रहा है. 

उद्धव ठाकरे ने कहा कि किसान लगातार दिन रात काम कर रहा है पर कई जगहों पर फिर भी उपज नहीं मिल रहा है तो आखिर किसान क्या करे? उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने किसानों को लूटा है और हम उन्हें सजा देंगे. लाखों किसानों का कर्ज माफ हो गया है, बाकी किसानों का भी कर्ज माफी जल्द किया जाएगा. उद्धव ठाकरे ने धार्मिक संस्थाओं का धन्यवाद देते हुए कहा कि आप सभी ने हमारी बात मानी इसलिए आप सभी का धन्यवाद. उद्धव ठाकरे ने कहा कि  गणपति उत्सव के लिए भी सभी मंडलों से बैठक की और सभी मंडलों ने कहा कि सरकार का निर्णय हमें मान्य होगा. इस साल सार्वजनिक गणेश मंडलों से बात कर ज़्यादा से ज़्यादा 4 फुट की मूर्ति की बात की है ताकि ज़्यादा लोगों को मूर्ति के पास नहीं जाना पड़े. ना ही आगमन में उत्सव होगा और ना ही विसर्जन में. 


उद्धव ठाकरे ने कहा कि मार्च-अप्रैल से प्लाज़मा थेरेपी की शुरुआत की गई, आज तक अगर 10 लोगों पर इसका उपचार किया गया होगा तो 9 लोगों को इससे फायदा हुआ है। इसी को देखते हुए कल से देश के सबसे बड़े प्लाज़मा का इस्तेमाल करने वाले राज्य हम बन जाएंगे. महाराष्ट्र के सीएम ने लोगों से अपील की कि जो लोग कोरोना से ठीक होकर घर गए हैं, उनसे विनती है कि प्लाज़मा का दान करें ताकि कई लोगों को बचाया जा सके. उन्होंने बताया कि Remdesivir का उपयोग करने का हमें अनुमति मिल गई है और हम इसे उपलब्ध करने और आगे जाकर मुफ्त में उपलब्ध करवाने की कोशिश कर रहे हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आने वाले दिनों में मरीजों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि धीरे धीरे जब हम चीज़ें खोल रहे हैं तो लोग संपर्क में आ रहे है और इसलिए हमने टेस्ट भी बढ़ा दिया है और खुद घर घर जाकर हम लोगो के पास जा रहे हैं. इसलिये मैं अब 55 साल से ज़्यादा उम्र के डॉक्टर जो खुद हाई रिस्क ऐज में आते हैं वो खुद डरे हुए हैं और अस्पताल में नहीं जा रहे हैं. मैं उनसे कहता हूं कि डरने की ज़रूरत नहीं है, हम आपके साथ हैं. उद्धव ठाकरे ने कहा कि मानसून महीने की शुरुआत हुई है तो आमतौर पर इस महीने में डेंगू, मलेरिया जैसी बीमारियां होती हैं और इसलिए भी हमने तैयारी की है. सभी लोगों से कहना चाहता हूं कि प्रशासन की ओर से सब कदम उठाए जा रहे हैं पर आप भी इसका ख्याल रखें.