दूसरे की जगह Sub Inspector की परीक्षा देने आए सॉल्वर गैंग के दो सदस्य गिरफ्तार

गिरोह के गिरफ्तार सदस्यों की पहचान देवरिया जनपद निवासी आशुतोष मणि त्रिपाठी और बुलंदशहर के रहने वाले साहिर खान के तौर पर हुई है. 

दूसरे की जगह Sub Inspector की परीक्षा देने आए सॉल्वर गैंग के दो सदस्य गिरफ्तार

रविवार को पांचली के आइटीएम कॉलेज में उप्र पुलिस उप निरीक्षक की परीक्षा

मेरठ:

उत्तर प्रदेश के मेरठ जनपद की थाना जानी पुलिस ने पांचली खुर्द के आइटीएम कॉलेज में प्रदेश पुलिस के उप निरीक्षक पद के लिये दूसरों की जगह परीक्षा दे रहे ‘सॉल्वर' गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को यह जनकारी दी. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) प्रभाकर चौधरी ने बताया कि गिरोह के गिरफ्तार सदस्यों की पहचान देवरिया जनपद निवासी आशुतोष मणि त्रिपाठी और बुलंदशहर के रहने वाले साहिर खान के तौर पर हुई है. 

'शिवसेना नेता पर एक्शन क्यों नहीं, कैसा दोगलापन है... : अमरावती हिंसा में BJP नेता की हिरासत पर राम कदम

चौधरी ने बताया कि रविवार को पांचली के आइटीएम कॉलेज में उप्र पुलिस उप निरीक्षक की परीक्षा थी. तीसरी पाली में शाम चार बजे परीक्षा प्रारम्भ होने जा रही थी तभी कॉलेज के प्रवेश द्वार पर परीक्षार्थी के प्रवेश पत्र व पहचान पत्रों की जांच की जा रही थी. गेट पर मानवेन्द्र सिंह नाम के परीक्षार्थी के पहचान पत्र व प्रवेश पत्र की जांच की गई तो फोटो का मिलान नहीं हो पाया. शक होने पर इस व्यक्ति से पुलिस द्वारा पूछताछ की गई तो उसने अपना नाम आशुतोष बताया जिसके बाद पूरे मामले का पर्दाफाश हुआ. 

कुख्यात नक्सली प्रशांत बोस और उसकी पत्नी शीला मरांडी गिरफ्तार, न्यायिक हिरासत में भेजे गए


उन्होंने बताया कि आरोपियों के तीन अन्य साथी मौके से फरार हो गए. एसएसपी ने बताया कि आरोपियों ने परीक्षार्थियों के प्रवेश-पत्र और पहचान पत्र की फोटो भी बदल दी थी जिससे परीक्षा केंद्रों पर उनकी पहचान नहीं हो पाए. उन्होने बताया कि इस संबंध में मुकदमा दर्ज कर आशुतोष व साहिर को जेल भेज दिया गया जबकि अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कथित गौ तस्करों के साथ मुठभेड़ पर सवाल, पुलिस ने सात आरोपियों को एक ही जगह मारी गोली



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)