चीन, यूके समेत 10 देशों से भारत आने वाले यात्रियों के लिए RT-PCR निगेटिव रिपोर्ट जरूरी

भारत आने वाले 10 देशों के यात्रियों के लिए अब RT-PCR निगेटिव रिपोर्ट जरूरी होगी. इस लिस्‍ट में चीन, ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका जैसे देशों के लोग शामिल हैं.

चीन, यूके समेत 10 देशों से भारत आने वाले यात्रियों के लिए RT-PCR निगेटिव रिपोर्ट जरूरी

नई दिल्‍ली :

भारत आने वाले 10 देशों के यात्रियों के लिए अब RT-PCR निगेटिव रिपोर्ट जरूरी होगी. इस लिस्‍ट में चीन, ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका जैसे देशों के लोग शामिल हैं. दुनिया मे कोरोना के नए-नए वेरियंट के चलते अंतराष्ट्रीय यात्रा की गाइडलाइन में बदलाव किया गया है, इसके तहत यूके समेत 10 देशों से भारत आने वाले यात्रियों को हवाई यात्रा करने के 72 घन्टे पहले RTPCR निगेटिव रिपोर्ट होनी चाहिए. RTPCR निगेटिव होने के बावजूद भारत मे लैंड करने के बाद उनकी कोरोना जांच की जाएगी. पहले यूके, यूरोप और मिडिल ईस्ट के लिए ये नियम लागू था और अब सात और देशों को शामिल किया गया है. ये देश हैं-दक्षिण अफ्रीका, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन , मॉरीशस, न्यूजीलैंड और  जिम्बाब्‍वे. इस नए नियम को लागू करने के लिए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने सभी राज्यों को लेटर लिखा है.

कोरोना के बीच कैसे मनाई जाए दिवाली और ईद, सरकार ने जारी की एडवाइजरी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि भारत सहित दुनिया के ज्‍यादातर  देशों में कोरोना के केसों की रफ्तार पूरी तरह थम नहीं पाई है. कभी इस संख्‍या में कुछ कमी जा जाती है तो कभी उछाल. नए वैश्विक शोध में जो सबसे ज्‍यादा परेशान करने वाली बात सामने आई है वह यह है कि बच्‍चे भी अब कोरोनवायरस से संक्रमित हो रहे हैं. अब तक ऐसा माना जाता था कि बच्‍चों पर इसका असर बहुत ज्‍यादा नहीं है. ब्रिटेन में पिछले कुछ सप्‍ताह में बच्‍चों के कोरोना पॉजिटिव होने की संख्‍या में तेजी आई है. इसे खतरे का संकेत माना जा सकता है कि 10 से 19 वर्ष के 45 फीसदी लड़के पॉजिटिव पाए गए हैं. 4 से10 वर्ष की आयु तक के बच्‍चों में पॉजिटिविटी रेट 35% केआसपास रहा है. लड़कियों के मामले में भी स्थिति बहुत बेहतर नहीं मानी जा सकती, 5 से 19 वर्ष की आयु में पॉजिटिविटी रेट 35% के आसपास पाया गया है.