असम में कोविड-19 का पहला मामला आया सामने, दिल्ली की यात्रा के बाद डॉक्टरों ने दी टेस्ट कराने की सलाह

असम के सिलचर में मंगलवार को 52 साल के एक व्यक्ति के जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जो राज्य में इस बीमारी का पहला मामला है. स्वास्थ्य मंत्री हिमंत विश्वसरमा ने यह जानकारी दी.

असम में कोविड-19 का पहला मामला आया सामने, दिल्ली की यात्रा के बाद डॉक्टरों ने दी टेस्ट कराने की सलाह

डॉक्टरों ने पहले ही दी थी संक्रमित को कोरोनावायरस की जांच कराने की सलाह

गुवाहटी:

असम के सिलचर में मंगलवार को 52 साल के एक व्यक्ति के जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जो राज्य में इस बीमारी का पहला मामला है. स्वास्थ्य मंत्री हिमंत विश्वसरमा ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि इस व्यक्ति का सिलचर मेडिैकल कॉलेज एवं अस्पताल में इलाज चल रहा है और उसकी हालत स्थिर है. जानकारी के मुताबिक 52 वर्षीय शख्स दिल्ली ने हाल ही में दिल्ली यात्रा की थी. जहां हाल ही में निजामुद्दीन इलाके में एक धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन हुआ था और कई देशों के लोगों ने शिरकत की थी. जिसके बाद इस इलाके को कोरोनावायरस का हॉटस्पॉट घोषित किया था. हालांकि अधिकारियों का कहना है कि संक्रमित ने निजामुद्दीन के धार्मिक कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लिया था. 

निजामुद्दीन मरकज मामले पर बोले उमर अब्दुल्ला, मुस्लिमों पर दोष मढ़ने का एक और बहाना

संक्रमित डायबिटीज और कैंसेर का पेशेंट है. स्थानीय लोगों ने बताया कि 2 हफ्तों पहले वह प्राथमिक चिकित्सालय में गया था. चूंकि वह कैंसेर का पेशेंट है लिहाजा उसे कैंसेर अस्पताल में जाने की सलाह दी गई. इसके बाद वह सिलचर के एक प्राइवेट अस्पताल में जांच के लिए गया. यहां डॉक्टरों ने उसे कोरोनावायरस की जांच कराने के लिए कहा था लेकिन वह अपने घर चला गया और क्वॉरेंटाइन के बजाय घरेलू उपचार करने लगा.  

Coronavirus: AAP विधायक आतिशी ने निजामुद्दीन मरकज मामले पर दिल्ली पुलिस पर उठाए सवाल, मैप शेयर कर पूछा...


बता दें कि भारत में कोरोना वायरस की वजह से अब तक 35 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं संक्रमितों की संख्या 1397 तक पहुंच चुकी है. नई दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के धार्मिक आयोजन के बाद देश के अलग अलग राज्यों से संक्रमित लोगों की जानकारी सामने आ रही है. पिछले 24 घंटों के भीतर कोरोनावायरस के 146 नए मामले सामने आए हैं. राहत की बात ये है कि इसके संक्रमण से अब तक 124 लोगों को ठीक किया जा चुका है. स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से मंगलवार रात ये आंकड़े जारी किए गए हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: निजामुद्दीन मरकज़ से बहुत सारे मामले पॉजिटिव सामने आ सकते हैं : केजरीवाल