14 साल की उम्र में चिल्ड्रन होम से भागा था लड़का, 5 साल बाद ओड़िशा के नक्सल प्रभावित इलाके में मिला

क्राइम ब्रांच की डीसीपी मोनिका भारद्वाज के मुताबिक 2017 में नई दिल्ली स्टेशन से 14 साल का एक लड़का लावारिस हालात में मिला था, उसे कनॉट प्लेस के एक चिल्ड्रन होम लाया गया, जहां से वो एक 19 अप्रैल 2017 की रात भाग गया.

14 साल की उम्र में चिल्ड्रन होम से भागा था लड़का, 5 साल बाद ओड़िशा के नक्सल प्रभावित इलाके में मिला

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने ओड़िशा के नक्सल प्रभावित इलाके से एक 19 साल के लड़के को बरामद किया है जो 14 साल की उम्र में कनॉट प्लेस के एक चिल्ड्रन होम से भाग गया था और नक्सली गतिविधियों में शामिल होने की फिराक में था. क्राइम ब्रांच की डीसीपी मोनिका भारद्वाज के मुताबिक 2017 में नई दिल्ली स्टेशन से 14 साल का एक लड़का लावारिस हालात में मिला था, उसे कनॉट प्लेस के एक चिल्ड्रन होम लाया गया, जहां से वो एक 19 अप्रैल 2017 की रात भाग गया.

कश्मीर से फ्लाइट से आता था चोरी की कार लेने, दिल्ली पुलिस करेगी आतंकी कनेक्शन की जांच

इस मामले की जांच पहले बाराखंबा पुलिस थाने ने की. बाद में इसकी जांच क्राइम ब्रांच को सौंप दी गयी. क्राइम ब्रांच को पता चला कि गायब लड़का कंधमाल, उड़ीसा का रहने वाला है. पुलिस की टीम 1 जुलाई को उड़ीसा में नक्सल प्रभावित इलाके कंधमाल में गयी. जांच में लड़के के एक रिश्तेदार का मोबाइल नंबर मिला. हालांकि गायब लड़का अपने पास कोई मोबाइल नहीं रखता था लेकिन वो अलग-अलग नम्बरों से अपने रिश्तेदारों से बात करता था. वो कभी चेन्नई, कभी तमिलनाडु, कभी छत्तीसगढ़ और कभी कटक से बात करता था. पुलिस ने करीब 50 मोबाइल नम्बरों की जांच की. 


Delhi: पद संभालते ही ऐक्शन में दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर, सरप्राइज नाइट चेकिंग में जाना थानों का हाल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


आखिरकार पुलिस को पता चला कि गायब लड़का भुवनेश्वर में एक होटल में आंध्र प्रदेश के एक दूसरे लड़के के साथ छिपा हुआ है. पुलिस ने जब होटल में छापा मारा तो दोनों लड़के वहाँ से भाग गए लेकिन पुलिस ने आसपास के इलाके में कॉम्बिंग करने के बाद लड़के को बरामद कर लिया. पुलिस टीम उसे दिल्ली लेकर आ गयी. अब लड़के की उम्र 19 साल हो गयी है. पुलिस के मुताबिक ये लड़का नक्सली गतिविधियों में शामिल होने की फिराक में था.