कोरोना की तीसरी लहर के खतरे से बच्चों की सुरक्षा के लिए उपाय करें : ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने कहा, बंगाल में कोविड-19 की स्थिति में काफी सुधार हुआ, चुनाव के दौरान संक्रमण दर 32 फीसदी तक पहुंच गई थी, जो अब घटकर चार फीसदी रह गई

कोरोना की तीसरी लहर के खतरे से बच्चों की सुरक्षा के लिए उपाय करें : ममता बनर्जी

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (फाइल फोटो).

कोलकाता:

बंगाल में कुल मिलाकर कोविड-19 की स्थिति में सुधार होने का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को लोगों से महामारी की तीसरी लहर के खतरे के बीच बच्चों की सुरक्षा के लिए सभी प्रकार के उपाय करने का आग्रह किया, क्योंकि विशेषज्ञों ने आगाह किया है कि तीसरी लहर में बच्चों के लिए अधिक खतरा पैदा हो सकता है. बनर्जी ने यह भी कहा कि अस्पतालों के बाल रोग विभागों में बिस्तरों की संख्या बढ़ा दी गई है.

स्वास्थ्य विभाग ने अपने बुलेटिन में कहा कि राज्य में सोमवार को कोविड​​-19 के 1,879 नए मामले सामने आए, जिससे राज्य में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 14,83,586 तक पहुंच गए, जबकि संक्रमण के कारण 42 और मौत होने से राज्य में मृतकों की संख्या बढ़कर 17,390 हो गई. राज्य में रविवार से अब तक 2,113 लोग इस बीमारी से ठीक हो चुके हैं, जिससे स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर 14,43,456 हो गई है.

ममता बनर्जी ने कहा, "बंगाल में कोविड-19 की स्थिति में काफी सुधार हुआ है. राज्य में आठ चरणों के चुनाव के दौरान संक्रमण दर 32 फीसदी तक पहुंच गई थी, जो अब घटकर चार फीसदी रह गई है." मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ जिलों में, एक दिन में नए मामलों की संख्या गिरकर सात या आठ तक आ गई है.


एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सरकार अस्पतालों में महिलाओं के लिए और बेड आवंटित करने की योजना बना रही है, क्योंकि सरकार तीसरी लहर से निपटने के लिए व्यवस्था कर रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राज्य में सोमवार को 3,17,993 लोगों को कोविड-19 का टीका लगाया गया. इसके साथ ही, कम से कम एक खुराक लेने वाले लोगों की कुल संख्या बढ़कर 1,93,39,317 हो गई है.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)