शिवसेना नेता संजय राउत बोले वाइन नहीं है शराब, बिक्री से किसानों की आय होगी दोगुनी

महाराष्ट्र ने गुरुवार को राज्य भर के सुपरमार्केट और वॉक-इन स्टोर्स में 5,000 रुपये के फ्लैट वार्षिक लाइसेंस शुल्क पर वाइन बेचने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी. राज्य मंत्रिमंडल के अनुसार, निर्णय का उद्देश्य भारतीय वाइनरी के लिए अधिक सुलभ विपणन चैनल सुनिश्चित करना है.

शिवसेना नेता संजय राउत बोले वाइन नहीं है शराब, बिक्री से किसानों की आय होगी दोगुनी

यानी कि अब महाराष्ट्र के हर सुपरमार्केट और वॉक-इन स्टोर पर खुलेआम वाइन बिकेगी.

मुंबई:

शिवसेना नेता संजय राउत ने शुक्रवार को कहा कि सुपरमार्केट और वॉक-इन स्टोर में वाइन की बिक्री की अनुमति देने के महाराष्ट्र सरकार के फैसले से किसानों की आय में वृद्धि होगी. राउत ने कहा, "वाइन शराब नहीं है. अगर वाइन की बिक्री बढ़ती है, तो किसानों को इसका फायदा होगा. हमने किसानों की आय को दोगुना करने के लिए ऐसा किया है." राज्य सरकार के फैसले की आलोचना करने के लिए भाजपा पर निशाना साधते हुए राउत ने कहा, "भाजपा केवल विरोध करती है, लेकिन किसानों के लिए कुछ नहीं करती है. मल्लिकार्जुन खड़गे ने सही कहा है. भाजपा ने पब्लिक सेक्टर को बेच दिया है." 

हिंदुत्व के मुद्दे पर चुनाव लड़ने वाली देश की पहली पार्टी है शिवसेना : संजय राउत

इससे पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा था कि शिवसेना के नेतृत्व वाली गठबंधन सरकार महाराष्ट्र को "मद्य-राष्ट्र (शराब राज्य)" में बदलना चाहती है.

BJP सांसद ने संजय राउत को कहा 'नामर्द', तो शिव सेना सांसद ने डिलीट किया ट्वीट

महाराष्ट्र ने गुरुवार को राज्य भर के सुपरमार्केट और वॉक-इन स्टोर्स में 5,000 रुपये के फ्लैट वार्षिक लाइसेंस शुल्क पर वाइन बेचने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी. राज्य मंत्रिमंडल के अनुसार, निर्णय का उद्देश्य भारतीय वाइनरी के लिए अधिक सुलभ विपणन चैनल सुनिश्चित करना है. यानी कि अब महाराष्ट्र के हर सुपरमार्केट और वॉक-इन स्टोर पर खुलेआम वाइन बिकेगी.

Video : सुप्रीम कोर्ट ने पलटा महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर का फैसला, यहां जानें क्या रही वजह

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com