कोरोना वायरस के संपर्क में आई आबादी का पता लगाने के लिए करवाया जाएगा सीरो-सर्वेक्षण

आईसीएमआर ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोरोना वायरस के संपर्क में आई आबादी का पता लगाने के लिए राष्ट्रव्यापी सीरो-सर्वेक्षण कराया जाएगा.

कोरोना वायरस के संपर्क में आई आबादी का पता लगाने के लिए करवाया जाएगा सीरो-सर्वेक्षण

ICMR ने सीरो-सर्वेक्षण करवाने का लिया फैसला

नई दिल्ली:

आईसीएमआर ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोरोना वायरस के संपर्क में आई आबादी का पता लगाने के लिए राष्ट्रव्यापी सीरो-सर्वेक्षण कराया जाएगा. ऐसा ही एक सर्वेक्षण मई में किया गया था, जिसके नतीजे अभी जारी होना बाकी हैं. भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) सीरो-सर्वेक्षण करेगा, जिसके तहत लोगों के खून के नमूने की जांच करके शरीर में कोरोना वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी विकसित होने के बारे में पता लगाया जाएगा. इससे यह पता लग सकेगा कि कितने लोग वायरस संक्रमण की जद में आए.


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में विशेष कार्य अधिकारी राजेश भूषण ने बृहस्पतिवार को कहा कि आईसीएमआर द्वारा मई में आयोजित किए गए सीरो-सर्वेक्षण के अंतिम नतीजे की प्रक्रिया अभी चल रही है जो कि मध्य अप्रैल के संक्रमण पर केंद्रित था. उन्होंने कहा, '' निकट भविष्य में, आईसीएमआर एक राष्ट्रव्यापी अनुवर्ती (फोलोअप) सीरो-सर्वेक्षण की योजना बना रहा है जैसा कि पहले मध्य अप्रैल में संक्रमण की जद का पता लगाने के लिए आयोजित किया गया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO:दिल्ली सरकार ने बदली कोरोना से जंग की रणनीति