"दिल्ली में स्कूल खुलेंगे पर हालात बदले तो...", देश में कोरोना के बढ़ते मामलों पर बोले सीएम केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केरल में बढ़ते मामलों और तीसरी लहर की संभावना के बीच स्कूल खोलने के निर्णय पर कहा कि आज दिल्ली में स्थिति कंट्रोल में हैं और अब पेरेंट्स भी आकर कहते हैं कि जल्दी-जल्दी स्कूल खोलें.

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में स्थिति कंट्रोल में हैं और पेरेंट्स भी आकर कहते हैं कि जल्द स्कूल खोलें. (फाइल)

नई दिल्ली:

दिल्ली (Delhi) में शनिवार को कैबिनेट की बैठक शनिवार को आयोजित की गई. जिसमें कई अहम निर्णय लिए गए. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) ने केरल (Kerala) में बढ़ते मामलों और तीसरी लहर की संभावना के बीच स्कूल खोलने के निर्णय पर कहा कि आज दिल्ली में स्थिति कंट्रोल में हैं और अब पेरेंट्स भी आकर कहते हैं कि जल्दी-जल्दी स्कूल खोलें. उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली सरकार एक सितंबर से स्कूल खोलने की तैयारी है. 

केरल में बढ़ते मामलों और तीसरी लहर की संभावना के बीच स्कूल खोलने के निर्णय पर केजरीवाल ने कहा, 'आज दिल्ली में स्थिति कंट्रोल में है. एक समय पेरेंट्स को भी यह चिंता थी वह कहते थे कि हमें बच्चों की चिंता है अभी स्कूल मत खोलना, लेकिन अब पेरेंट्स भी आकर कहते हैं कि जल्दी-जल्दी स्कूल खोलें ताकि बच्चों की पढ़ाई शुरू हो सके. अभी दिल्ली में 30, 40 या 50 केस आ रहे हैं और हम 70 हजार टेस्ट रोज करते हैं.स्थिति अभी कंट्रोल में है हम इस पर लगातार नजर रखेंगे. स्कूल धीरे-धीरे खोल रहे हैं अगर दोबारा बंद करने की जरूरत पड़ी तो देखते हैं. अगर स्थिति सामान्य रहती है तीसरी लहर नहीं आती है तो अच्छी बात है सारे स्कूल कॉलेज खुल जाएंगे.'

सिद्धू के सलाहकारों के बयान पर केजरीवाल खफा, बोले-कश्‍मीर से कन्‍याकुमारी तक देश एक, कोई जुदा नहीं कर सकता'

उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली सरकार की एक सितंबर से स्कूल खोलने की तैयारी है. स्कूल, कॉलेज और कुछ संस्थान खुलेंगे और उसकी बकायदा एसओपी हम जारी करेंगे. किसी भी बच्चे को स्कूल आने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा या कोई स्कूल नहीं आना चाहता और ऑनलाइन क्लास करना चाहता है तो उसको ऑनलाइन क्लास की भी सुविधा दी जाएगी.


सिसोदिया ने कहा कि जहां-जहां स्कूलों में वैक्सीनेशन चल रहा है हमने उसकी पूरी समीक्षा कर ली है और कुछ ऐसे सेंटर हैं जहां ज्यादा क्लासरूम वैक्सीनेशन के काम में इस्तेमाल की जा रही हैं क्योंकि अभी 9वीं से 12वीं के लिए ही स्कूल खोले जा रहे हैं तो हमारे पास जगह है. वैक्सीनेशन सेंटर अभी चलते रहेंगे क्योंकि क्लासरूम काफी हैं और नए भी बन गए हैं तो रूम की कमी हमारे पास नहीं है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जहां-जहां राशन बांटने का और वैक्सीनेशन का काम स्कूलों में चल रहा है वह चलता रहेगा. उसको बच्चों से थोड़ा अलग कर देंगे ताकि बच्चे उनके कांटेक्ट में ना आएं क्योंकि अभी चार ही क्लासेस खुल रही हैं तो जगह की बहुत ज्यादा प्रॉब्लम नहीं है.