RSS से जुड़ा भारतीय किसान संघ 8 सितंबर को देगा धरना, किसानों को उपज का लाभकारी मूल्य देने की मांग

RSS से सम्बद्ध 'भारतीय किसान संघ' (Bhartiya Kisan Sangh) ने उपज का लाभकारी मूल्य देने की मांग को लेकर अल्टीमेटम के बावजूद केन्द्र की भाजपा सरकार (BJP Government) द्वारा कोई आश्वासन नहीं दिये जाने के विरोध में धरना देने का निर्णय लिया है. 

RSS से जुड़ा भारतीय किसान संघ 8 सितंबर को देगा धरना, किसानों को उपज का लाभकारी मूल्य देने की मांग

संगठन ने उपज का लाभकारी मूल्य दिये जाने की मांग को लेकर 31 अगस्त तक अल्टीमेटम दिया था. (फाइल)

बलिया:

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से सम्बद्ध 'भारतीय किसान संघ' (Bhartiya Kisan Sangh) ने किसानों (Farmers) को उपज का लाभकारी मूल्य देने की मांग को लेकर अल्टीमेटम के बावजूद केन्द्र की भाजपा सरकार (BJP Government) द्वारा कोई आश्वासन नहीं दिये जाने के विरोध में आगामी आठ सितम्बर को देश के हर जिला मुख्यालय पर प्रतीकात्मक धरना देने का निर्णय लिया है. मोदी सरकार को 31 अगस्त तक निर्णय करने का अल्टीमेटम दिया था, मगर सरकार ने कोई सकारात्मक संकेत नहीं दिए.

भारतीय किसान संघ के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष युगल किशोर मिश्र ने बुधवार रात बलिया जिले के नगरा कस्बे में भारतीय किसान संघ के केंद्रीय कार्यकारिणी व प्रांतीय प्रतिनिधियों की एक महत्वपूर्ण वर्चुअल बैठक के बाद संवाददाताओं से बातचीत में बताया कि संगठन ने किसानों को उपज का लाभकारी मूल्य दिये जाने की मांग को लेकर मोदी सरकार को 31 अगस्त तक निर्णय करने का अल्टीमेटम दिया था, मगर सरकार ने कोई सकारात्मक संकेत नहीं दिए.

यूपी में BJP को हराने के लिए किसान मोर्चा ने बनाई 'रणनीति', पर पंजाब को लेकर नहीं किया कोई फैसला

उन्होंने बताया कि भारतीय किसान संघ के केंद्रीय कार्यकारिणी व प्रांतीय प्रतिनिधियों की वर्चुअल बैठक में तय किया गया है कि केन्द्र सरकार के उदासीन रुख को देखते हुए उस पर दबाव बढ़ाने के लिए आगामी आठ सितंबर को देश के हर जिला मुख्यालय पर प्रतीकात्मक धरना दिया जाएगा.

मिश्र ने बताया कि बैठक में निर्णय लिया गया है कि इस कार्यक्रम के पूर्व संघ के पदाधिकारी देश की राजधानी से लेकर हर प्रदेश की राजधानी व प्रत्येक जिला मुख्यालय पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर किसानों के मसले पर देश को वस्तुस्थिति की जानकारी देंगे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने बताया कि आठ सितंबर को प्रतीकात्मक धरना देने के बाद इसी दिन राष्ट्रीय महामंत्री बद्री नारायण चैधरी आगे के कदम की घोषणा करेंगे.
 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)