करीब एक महीने बाद मुंबई की भायखला जेल से रिहा हुईं अभ‍िनेत्री रिया चक्रवर्ती

बुधवार को ही बॉम्बे हाई कोर्ट ने रिया को शर्तों के साथ जमानत दे दी थी. हालांकि रिया के भाई शौविक चक्रवर्ती को जमानत नहीं मिली है.

मुंबई:

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत मामले में ड्रग्स कनेक्शन को लेकर पिछले करीब एक महीने से मुंबई की भायखला जेल में बंद अभ‍िनेत्री रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) जेल से रिहा हो गई हैं. बुधवार को ही बॉम्बे हाई कोर्ट ने रिया को शर्तों के साथ जमानत दे दी थी. हालांकि रिया के भाई शौविक चक्रवर्ती को जमानत नहीं मिली है. रिया के वकील सतीश मानश‍िंदे ने कहा, 'करीब एक महीने बाद रिया अपने घर में रात बिता सकेंगी. रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) की रिहाई से पहले ही मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने मीडिया को सख्त हिदायत दी थी कि किसी भी सेलि‍ब्रिटी का पीछा किया जाता है या फिर उसके वाहन को रोककर बाइट लेने की कोशिश की जाती है तो इसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सकती है. मुंबई पुलिस के अधिकारियों ने कहा कि अगर किसी सिग्नल पर कोई सेलिब्रेटी रुकता है तो ऐसी स्थिति में उसके वाहन की खिड़की पर जबरदस्ती माइक लगाकर बात करने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा सकती है.

बता दें कि बॉम्बे हाई कोर्ट के जस्टिस सारंग कोतवाल ने अहम फैसला सुनाते हुए रिया चक्रवर्ती के साथ ही दीपेश सावंत और सैमुअल मिरांडा को जमानत दे दी. अदालत ने कहा कि रिया की पहली पेशी में भी एनसीबी ने रिमांड नही मांगी थी. इसका मतलब उसने जांच में सहयोग किया था और एजेंसी उसके जवाबों से संतुष्ट थी. 

'रिया चक्रवर्ती किसी ड्रग सिंडिकेट का हिस्सा नहीं'- पढ़िए, बॉम्बे HC ने जमानत आदेश में क्या कहा

अदालत ने फैसला सुनाते हुए कहा कि ड्रग्स का सेवन करने के लिए दूसरों को पैसे देने का मतलब उसे फाइनांस करना नहीं है. रिया के खिलाफ पहले से कोई अपराधिक मामला दर्ज नहीं है. उसने ड्रग्स बेचकर कोई मुनाफा नहीं कमाया. वो ड्रग्स डीलरों की कड़ी का हिस्सा भी नहीं है. सिर्फ इस आधार पर एनडीपीएस कानून की धारा 27A के तहत जोड़ा जाना ठीक नहीं कि कुछ अवसरों पर ड्रग्स खरीदने के लिए उसने अपने पैसों का इस्तेमाल किया.


अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को बॉम्बे हाईकोर्ट ने दी जमानत, शौविक की याचिका खारिज

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


हालांकि रिया के भाई शॉविक चक्रवर्ती को अभी जेल में ही रहना होगा क्योंकि अदालत ने शॉविक और अब्देल बासित की जमानत अर्जी खारिज कर दी. अदालत के मुताबिक शॉविक चक्रवर्ती, अब्देल बासित, अनुज केशवानी और कैज़ाद से जुड़ा प्रतीत होता है. अनुज के पास से कारोबारी मात्रा में ड्रग्स बरामद हुए हैं. इस लिहाज से ड्रग्स डीलरों के चेन से जुड़ा लगता है और वो ड्रग्स के खरीद फरोख्त में भी शामिल था.