'सोनिया गांधी जी का शुक्रिया, लेकिन...' : पर्दे के पीछे कांग्रेस से बातचीत का कैप्टन ने किया खंडन

अमरिंदर सिंह ने कहा, 'मैं जल्द ही अपनी नई पार्टी बनाऊंगा. किसानों का मुद्दा सुलझने के बाद पंजाब चुनाव के लिए बीजेपी और अन्य दलों के साथ सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत की जाएगी.'

चंडीगढ़:

'कांग्रेस (Congress) के साथ अंदरखाने बातचीत की खबरें गलत हैं. दोबारा एकजुट होने का समय अब खत्म हो गया है. मैं सोनिया गांधी जी का उनके समर्थन के लिए आभारी हूं, लेकिन अब दोबारा कांग्रेस में नहीं रहूंगा'. यह बयान कैप्टन अमरिंदर सिंह (Capt Amarinder Singh) के हवाले से उनके सहयोगी रवीन ठुकराल ने दिया है. 

दरअसल, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा एक नई पार्टी बनाने की घोषणा के बाद चंडीगढ़ स्थित एक समाचार पत्र द ट्रिब्यून ने हाल ही में रिपोर्ट में दावा किया था कि "वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं को अंदरखाने पूर्व सीएम को पार्टी में रहने के लिए मनाने में लगाया गया है.' जिसके बाद कैप्टन अमरिंदर की तरफ से बयान जारी कर इसका खंडन किया गया है.

अखबार ने कांग्रेस के अंदरूनी सूत्रों के हवाले से लिखा है कि आगामी पंजाब विधानसभा चुनावों से पहले वोटों के बंटवारे के डर से पार्टी नहीं चाहती कि अमरिंदर सिंह कांग्रेस के उम्मीदवारों के खिलाफ अपने उम्मीदवार उतारें, क्योंकि वह उन कांग्रेसी नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल कर सकते हैं, जो पिछले चुनाव में टिकट नहीं मिलने से नाराज चल रहे थे. इससे पार्टी के साथ-साथ वोटबैंक का भी विभाजन होना संभावित है.

'पंजाब में नई पार्टी बनाऊंगा', विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस से अलग होकर बोले अमरिंदर सिंह


बता दें कि अमरिंदर सिंह ने एक फिर स्पष्ट किया है कि वह अपनी पार्टी बनाकर पंजाब चुनाव लड़ेंगे. रवीन ठुकराल ने उनके माध्यम से ट्वीट करते हुए लिखा, 'मैं जल्द ही अपनी नई पार्टी बनाऊंगा. किसानों का मुद्दा सुलझने के बाद पंजाब चुनाव के लिए बीजेपी और अन्य दलों के साथ सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत की जाएगी. पंजाब और किसानों के हित में काम करना ही मेरा उद्देश्य है.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कैप्‍टन अमरिंदर सिंह बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ने की कर रहे तैयारी