राहुल गांधी ने जोरदार तुकबंदी कर PM मोदी पर बोला हमला, लिखा- सदियों का बनाया, पलों में मिटाया..

राहुल गांधी ने गुरुवार को कोरोना वैक्‍सीन की कमी, एलएसी (लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल), बेरोजगारी, महंगाई और किसानों की समस्‍याओं को लेकर ट्वीट किया

राहुल गांधी ने जोरदार तुकबंदी कर PM मोदी पर बोला हमला, लिखा- सदियों का बनाया, पलों में मिटाया..

राहुल गांधी ने ट्वीट करके नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा है (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने आरोप लगाया है कि नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार (Narendra Modi Government) ने देश को कठिन दौर में लाकर खड़ा कर दिया है. केंद्र की BJP सरकार के खिलाफ राहुल लगातार हमलावर रुख अख्तियार किए हैं. उन्‍होंने गुरुवार को कोरोना वैक्‍सीन की कमी (Corona Vaccine Shortage), एलएसी (लाइन ऑफ एक्‍चुअल कंट्रोल), बेरोजगारी, महंगाई और किसानों की समस्‍याओं को लेकर ट्वीट किया. उन्‍होंने अपने ट्वीट में तुकबंदी के जरिये केंद्र सरकार पर हमला बोला. अपने ट्वीट में उन्‍होंने लिखा, सदियों का बनाया, पलों में मिटाया, देश जानता है कौन ये कठिन दौर लाया.'' ट्वीट में हालांकि किसी का नाम नहीं है लेकिन इसकी भाषा से स्‍पष्‍ट है कि राहुल का निशाना पीएम और उनकी सरकार पर ही है.

चीन मुद्दे पर चर्चा की नहीं मिली इजाजत, राहुल ने रक्षा समिति की बैठक से किया वॉकआउट : सूत्र

गौरतलब है कि कोरोना टीकाकरण अभियान हो या इस महामारी को नियंत्रित करने में सरकार की कथित नाकामी, जरूरी दवाओं की कालाबाजारी, ईंधन की कीमतों में लगातार इजाफे का मामला या फिर चीन से सीमा विवाद का मुद्दा, राहुल ने सरकार को हर मुद्दे पर आड़े हाथ लिया है. इसी सप्‍ताह खाद्य पदाथों खासकर खाद्य तेल की बढ़ती कीमत पर राहुल ने ट्वीट किया था. उन्‍होंने अपने ट्वीट में लिखा था, 'खाया भी, ‘मित्रों' को खिलाया भी.बस जनता को खाने नहीं दे रहे.' अपने ट्वीट के साथ उन्‍होंने PriceHike का हैशटैग इस्‍तेमाल किया था.


दो दिनों के ब्रेक के बाद आज फिर चढ़े पेट्रोल-डीजल, जानें अपने शहर में तेल के नए रेट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मोदी कैबिनेट में हाल के फेरबदल में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Dr. Harsh Vardhan) को हटाए जाने और मनसुख मंडाविया को यह जिम्मेदारी सौंपे जाने को लेकर भी राहुल गांधी ने कटाक्ष किया था. उन्‍होंने ट्वीट करते हुए लिखा था, 'इसका मतलब है कि अब देश में टीकों की कमी नहीं होगी'.