'सरकार से जवाब न मिलने तक...' : कृषि कानूनों व Pegasus Scandal पर कांग्रेस का 'ऐलान-ए-जंग'

कांग्रेस नेता और सांसद मनीष तिवारी ने एनडीटीवी से कहा, "हम आज भी संसद में नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करेंगे. संसद को सरकार रोक रही है.

'सरकार से जवाब न मिलने तक...' : कृषि कानूनों व Pegasus Scandal पर कांग्रेस का 'ऐलान-ए-जंग'

कांग्रेस सांसदों को संसद परिसर में प्रदर्शन

नई दिल्ली:

कृषि कानूनों (Farm Laws) और पेगासस जासूसी कांड (Pegasus Spyware Case) समेत अन्य मुद्दों को लेकर विपक्ष संसद में लगातार हंगामा कर रहा है. शुक्रवार यानी आज भी संसद का सत्र हंगामेदार रहा. विपक्ष विशेषकर कांग्रेस कृषि कानूनों को वापस लेने और पेगासस मामले की जांच पर अड़ी हुई है. कांग्रेस (Congress) के सांसदों ने संसद परिसर में स्थित गांधी प्रतिमा के सामने प्रदर्शन और नारेबाजी की. कांग्रेस सांसद का कहना है कि वह आज भी कृषि कानूनों और पेगासस के मुद्दे को संसद में उठाएंगे.

कांग्रेस नेता और सांसद मनीष तिवारी ने एनडीटीवी से कहा, "हम आज भी संसद में नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग करेंगे. संसद को सरकार रोक रही है. इतना बड़ा जासूसी कांड हुआ है और सरकार जवाब देने को तैयार नहीं है. जब तक सरकार हमारे सवालों के जवाब नहीं देती हम अपना विरोध जताते रहेंगे. पेगासस स्पाइवेयर मसले को भी हम आज संसद में हम आज फिर उठाएंगे."


राज्यसभा में सरकार और विपक्ष के बीच बना गतिरोध शुक्रवार को भी नहीं दूर हो सका और विभिन्न मुद्दों पर विपक्षी दलों के सदस्यों के हंगामे के कारण उच्च सदन की बैठक सुबह शुरू होने के करीब 10 मिनट बाद ही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गयी. सुबह सदन की बैठक शुरू होते ही सभापति एम वेंकैया नायडू ने हंगामा करने वाले सदस्यों के आचरण पर आपत्ति जतायी और कहा कि सदन में सीटी बजाना शोभनीय नहीं है. उन्होंने कहा कि ऐसे आचरण से सदन की गरिमा प्रभावित होती है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com