'मन की बात' में PM मोदी ने अमेरिका-ब्रिटेन से की भारत की तुलना, बोले- हमारे यहां सिर्फ 15 दिन में...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने 'मन की बात' (Mann Ki Baat) में कहा, 'जैसे कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई उदाहरण बनी है, वैसे ही हमारा वैक्सीनेशन प्रोग्राम भी दुनिया में एक मिसाल बन रहा है.'

खास बातें

  • पीएम नरेंद्र मोदी के 'मन की बात'
  • 2021 की पहली 'मन की बात'
  • पीएम ने कई मुद्दों पर की 'मन की बात'
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने आज (रविवार) 2021 की पहली मन की बात (Mann Ki Baat) की. 'मन की बात' PM के रेडियो कार्यक्रम का नाम है. प्रधानमंत्री मोदी ने कार्यक्रम में कई मुद्दों पर विचार साझा किए. देश में कोरोनावायरस (Coronavirus Vaccination in India) से बचाव के लिए टीकाकरण अभियान भी जारी है. पीएम मोदी ने इस बारे में कहा, 'इस साल की शुरुआत के साथ ही कोरोना के खिलाफ हमारी लड़ाई को करीब एक साल पूरा हो गया. जैसे कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई उदाहरण बनी है, वैसे ही हमारा वैक्सीनेशन प्रोग्राम भी दुनिया में एक मिसाल बन रहा है.'

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, 'आज भारत दुनिया का सबसे बड़ा कोविड वैक्सीन प्रोग्राम चला रहा है. आप जानते हैं और भी ज्यादा गर्व की बात क्या है, हम सबसे बड़े वैक्सीन प्रोग्राम के साथ ही दुनिया में सबसे तेज गति से अपने नागरिकों का वैक्सीनेशन भी कर रहे हैं. नमो ऐप पर यूपी से भाई हिमांशु यादव ने लिखा है कि मेड इन इंडिया वैक्सीन से मन में एक नया आत्मविश्वास आ गया है .'

PM ने लाल किले हिंसा पर जताया दुख, 30 लाख कोरोना वॉरियर्स के टीकाकरण पर खुश, जानें- 'मन की बात' के 10 बिंदु

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, 'मेड इन इंडिया वैक्सीन आज भारत की आत्मनिर्भरता का तो प्रतीक है ही, भारत के आत्मगौरव का भी प्रतीक है. सिर्फ 15 दिन में भारत अपने 30 लाख से ज्यादा कोरोना वॉरियर्स का टीकाकरण कर चुका है, जबकि अमेरिका जैसे समृद्ध देश को इसी काम में 18 दिन लगे थे और ब्रिटेन को 36 दिन. हमारे एक-एक प्रयास से ही हमारे संकल्प सिद्ध होते हैं. इसलिए 2021 की शुरुआत जिन लक्ष्यों के साथ हमने की है, उनको हम सबको मिलकर ही पूरा करना है तो आइए, हम सब मिलकर इस साल को सार्थक करने के लिए अपने-अपने कदम बढ़ाएं.'

पीएम मोदी को लेकर क्या सोचते थे पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, किताब में उनके मन की बात


पीएम मोदी ने 26 जनवरी को किसानों द्वारा बुलाई गई ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा पर कहा, 'दिल्ली में 26 जनवरी को तिरंगे का अपमान देख, देश बहुत दुखी भी हुआ.' उन्होंने आगे कहा, 'खेती को आधुनिक बनाने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है और अनेक कदम उठा भी रही है. सरकार के प्रयास आगे भी जारी रहेंगे.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: 26 जनवरी को तिरंगे का अपमान देख देश दुखी हुआ : PM मोदी