Pegasus case: सरकार ने कोर्ट की निगरानी में जांच की राहुल गांधी की मांग ठुकराई, कहा-हमने हर चीज को स्‍पष्‍ट कर दिया

गृह राज्‍यमंत्री ने NDTV से बात करते हुए कहा, 'हमने पेगासस स्पाइवेयर मामले में हर चीज को स्पष्ट कर दिया है अब इसमें जांच का कोई विषय नहीं बनता है जो लोग आरोप लगा रहे हैं, वह राजनीतिक रूप से असफल हो चुके हैं अब उनके पास कोई मुद्दा नहीं है.'

Pegasus case: सरकार ने कोर्ट की निगरानी में जांच की राहुल गांधी की मांग ठुकराई, कहा-हमने हर चीज को स्‍पष्‍ट कर दिया

राहुल गांधी ने पेगासस मामले की कोर्ट की निगरानी में जांच कराए जाने की मांग की थी

नई दिल्ली:

Pegasus Spyware Phone Hack Case: केंद्र सरकार ने पेगासस जासूसी मामले की कोर्ट की निगरानी में जांच कराए जाने की कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की मांग को ठुकरा दिया है. गृह राज्‍यमंत्री अजय कुमार ने NDTV से बात करते हुए कहा, 'हमने पेगासस स्पाइवेयर मामले में हर चीज को स्पष्ट कर दिया है अब इसमें जांच का कोई विषय नहीं बनता है जो लोग आरोप लगा रहे हैं, वह राजनीतिक रूप से असफल हो चुके हैं अब उनके पास कोई मुद्दा नहीं है.'

केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने 'किसान नहीं, मवाली हैं' टिप्पणी पर मांगी माफी

गौरतलब है कि कुछ मीडिया ऑर्गेनाइजेशंस ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की है जिसमें कहा गया है कि कुछ राजनीतिक नेताओं, सरकारी अधिकारियों, पत्रकारों सहित अनेक भारतीयों की निगरानी करने के लिये इजराइली स्पाइवेयर पेगासस का कथित तौर पर उपयोग किया गया था.पेगासस जासूसी मामले में राहुल गांधी ने शुक्रवार को केंद्र सरकार पर जोरदार हमला बोला था उन्‍होंने इस मसले को समूचे भारत पर हमला करार दिया था.राहुल ने कहा था, 'मेरा फोन स्‍पष्‍ट तौर पर टैप किया गया, मैं संभावित टारगेट नहीं हूं.' राहुल ने आरोप लगाया कि उनके सभी फोन टैप किए जा रहे थे और उनके सिक्‍युरिटी मैन को उनकी (राहुल की) हर बात की जानकारी देने के लिए कहा गया था.


PM नरेंद्र मोदी के इस मंत्री के माता-पिता आज भी करते हैं खेती, और चराते हैं मवेशी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


संवाददाताओं से बातचीत में राहुल ने कहा था, 'मेरा फोन टैप किया गया. केवल यह फोन नहीं, मेरे सभी फोन टैप किए गए.'गौरतलब है कि इजरायली स्‍पाईवेयर पेगासस की लीक सूची में राहुल गांधी का नाम सामने आया है. राहुल ने यह भी दावा किया कि उनके सुरक्षाकर्मियों ने बताया था कि उनकी बातचीत पर निगरानी रखी जा रही है. उन्‍होंने कहा था, 'मैं भयभीत नहीं हूं. इस देश में यदि आप भ्रष्‍ट और चोर हैं तो आप डरेंगे. यदि आप इनमें से नहीं हैं तो डरने की जरूरत नहीं है.